Adsense approval process 2017

By | July 7, 2016
Adsense approval process 2016

दोस्तों आज हम आपको adsense से जुड़े सारे सवाल और उसके जवाब आपके सामने लाए है , हर website owner की तम्मना होती है कि उसके website पर google adsense का ads हो . पर ये मंजिल जितनी मुश्किल लगती है उतनी है नहीं , तो आइए जानते है adsense से जुड़े कुछ बातें और कैसे website को adsense friendy बनाए ?

 

Adsense क्या करता है और कैसे काम करता है  ?

Adsense google का एक advertising program है जो 18 june 2003 में launch हुआ . Adsense उन publisher को एक platform देता है जो अपने website पर adsense द्वारा दिए गए ads को publish करते हैं . यदि कोई व्यक्ति इस ads को click करता है या देखता है तो publisher को इसके पैसे मिलते हैं .

 

Publisher मतलब क्या होता है ?

Publisher मतलब जो व्यक्ति अपने website पर google adsense का ads publish करे .

 

Adsense में कैसे account बनाए ?

adsense में account बनने के लिए gmail account होना बेहद जरुरी है , आप अपने gmail id और password के साथ adsense में login कर सकते हैं .

 

Adsense सबसे बेहतर क्यों है ?

ये दुनिका का no-1 advertising program है क्योंकि adsense जितना आपको pay करता है उतना कोई भी नहीं करत , और हमेसा सही सबे पर आपको payment मिलेगा .

 

Adsense के लिए apply करने से पहले किन बातों का रखें ख्याल ?

  1. खुद का website होना जरुरी है .
  2. website में जो भी contain हो वो बिलकुल unique होने चाहियें .
  3. Website का designe भी बहुत अच्छा होना चाहिए .
  4. आप जो website जो contain डाले उससे related ही आपका domain name होना चाहिए .
  5. अगर आप blogger में अपना blog बनाए हो तो 6 महीने के बाद ही adsense के लिए apply करें .
तो आइए जानते है
खुद का वेबसाइट जरुरी है – आप adsense के लिए apply करने से पहले खुद का website या blog जरुर बनाएं . अगर आप किसी website या blog के owner नहीं है तो आप adsense के लिए apply नहीं कर सकते .

हमेसा unique और quality contain ही publish करें .

अगर आपके website पे जो भी है वो दुसरे website पर भी available है  , कहने का मतलब ये है कि जो भी आप article लिखो वो खुद का ही हो न की किसी ओर website से copy किया हुआ . ऐसा करने से आप adsense के लिए तो apply कर सकते है पर आपका application या तो reject हो जायेगा या फिर banned . ऐसा करने से बचें , हमेसा unique post ही डाले .

Website का design भी अच्छी होनी चाहिए

अगर कोई visitor आपके website को visit करता है , और आपका website का look ठीक नहीं , तो क्या वो visitor दुबारा आपके website पर आयेगा …… जी नहीं , website का desgine ऐसा हो कि visitor को लुभाए … इसके लिए आप एक अच्छा सा tamplate डालें , website का brightness पर भी ध्यान दे . आपका website आँखों को चुभना नहीं चाहिए . website का page navigation भी अच्छा होना चाहिए .

आप जो website जो contain डाले उससे related ही आपका domain name होना चाहिए .

मान लो आपने educational website बनाया है पर आपने domain नाम में fashonworld लिखा है , जो की को आपने content से बिलकुल मिलता जुलता नहीं है . website का नाम की उसकी पहचान है , जो नाम वैसा काम .

अगर आप blogger में अपना blog बनाए हो तो 6 महीने के बाद ही adsense के लिए apply करें .

अगर आपने अभी अभी अपना वेबसाइट बनाया है तो आप 6 महीने बाद ही adsense के लिए apply कर सकते है . मतलब आपके पास 6 महीने का समय है अपने website के content को बढ़ाने के लिए .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *