हस्तमैथुन के बारे में पूरी जानकारी – All information about masturbation in Hindi

हस्तमैथुन यानि कि masturbation शारीरिक मनोविज्ञान से related एक normal process न नाम है, जिसे यौन संतुष्टि हेतु पुरुष हो या स्त्री, कभी न कभी सभी करते हैं. अपने यौनांगों (private parts) को खुस उत्तेजित करना युवा लड़कों तथा लड़कियों के लिए उस समय जरूरी हो जाता है जब उसकी किसी कारण वश शादी नहीं हो पाती या वे असामान्य रूप से sexually strong होते हैं.

अब तो विज्ञानं द्वारा भी ये proof किया जा चूका है कि इससे कोई हानी नहीं होती. पुरुषों की तरह महिलाएं भी ओने यौनांगों को खुद उत्तेजित करने के तरीके खोज लेती हैं जो उन्हें बेहद संवेदनशील अनुभव और प्रबल उत्तेजना प्रदान करते हैं.

महिलाएं अगर अपने यौनांगों को खुद उत्तेजित न करें तो इस बात की भी संभावना बनी रहती है कि शादी के बाद सेक्स क्रिया के दौरान उन्हें प्रयाप्त उत्तेजना से वंचित रहना पड़े. औसत तौर पर पुरुष 12-13 वर्ष के अंतिम दौर में हस्तमैथुन का आनंद लेना शुरू करते हैं.

पुरुष अपने लिंग को अपनी मुट्ठी में दबाकर या अपनी उँगलियों से पहाड़ कर इसे तेजी से रगड़ना या लिंग के ऊपर की त्वचा को आगे-पीछे हिलाना शुरू करते हिं. यह process कभी-कभी वे लिंग पर चिकनाई लगाकर भी करते हैं. इस process में उन्हें अपार आनंद की अनुभूति होती है. ये कार्य वे तब तक जरी रखते हैं जब तक उनका वीर्यपात नहीं हो जाता .

इसके अतिरिक्त कभी कभार पुरुष तकिये के बिच में अपना लिंग दबा कर धीरे-धीरे आगे पीछे धक्का देते हुए इस तरह हिलाते हिं मानो वे किसी स्त्री की योनी में अपना लिंग प्रवेश कर रहे हों.

अब तो कई प्रकार के नकली महिला जननांग भी market में available हिं जो soft fiber के बने होते हिं और महिला जननांग जैसा ही अनुभव देते हैं. कुछ पुरुषों द्वारा इस प्रकार के उपाय भी खुद की यौन संतुष्टि हेतु किये जाते हैं.

वैसे तो हस्तमैथुन करने से नुकसान नहीं होता लेकिन किसी भी चीज को उसकी मात्रा में किया जाए तो बेहतर होता है , इसी प्रकार हस्तमैथुन को भी हद से ज्यादा करना हमारे शरीर के लिए हानिकारक हो सकता है.

हस्तमैथुन का सही मतलब है कि जब पुरुष या महिला किसी को भी सेक्स की अनुभूति होती है और वह सेक्स किये बिना रह न सकता हो तब वह संतुष्टि पाने के लिए हस्तमैथुन करता है जिससे की वह और उसका शरीर संतुष्ट हो जाए. लेकिन हस्तमैथुन की आदत लगा लेना मनुष्य के शरीर को नुकसान पंहुचा सकता है.

लेखिका : स्मिता सिंह 

One Reply to “हस्तमैथुन के बारे में पूरी जानकारी – All information about masturbation in Hindi”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.