माँ-बाप की भूल के कारण बच्चों का जीवन नष्ट होता है ? – Children’s life is destroyed due to the mistake of parents ? in Hindi

माँ-बाप की भूल के कारण बच्चों का जीवन नष्ट होता है ? – Children’s life is destroyed due to the mistake of parents ? in Hindi
जी हाँ , यह बात बहुत कड़वी है . मगर वास्तव में इसे कडवा सच कहूँगा . क्योंकि हमारे देश में बच्चों की देखभाल का साहित्य बहुत कम ही पाया जाता है . पुराने ज़माने की बड़ी बुढियां घरों में ऐसी बातों का बहुत ध्यान रखती थी . किन्तु बदलते युग के साथ-साथ नई पीढ़ी तो पुरानी औरतों की शिक्षाप्रद बातें सुन कर मजाक ही उड़ाती हैं . यही कारण है कि बच्चों की देखभाल में बहुत कमी आ गई है .

एक और अभिशाप ‘ नौकर ‘

नये समाज की बिगड़ती रुपरेखा में जो अनेक त्रुटियाँ पैदा हो रही है जिनमें सबसे बड़ी त्रुटी बच्चों की देखभाल ठीक ढंग से न करना कही जाती है .

बच्चे की परवरिस करने के लिए माँ की जरुरत है . आया या नौकर की नहीं . नई पीढ़ी की fashionable ladies सबसे पहले तो माँ बनना ही पसंद नहीं करती . यदि वह माँ बन भी जाती हैं तो बच्चों का पालन-पोषण उनके बस में नहीं होता . इसके लिए उन्हें नौकरानी की जरुरत पड़ती है . बात भी सच है , जब माँ-बाप दोनों ही नौकरी करेंगे तो बच्चों का भविष्य (future) हो भी क्या सकता है .

जरा कल्पना करें कि क्या किसी गैर औरत के ह्रदय में ममता पैदा हो सकती है ,
‘ नहीं ‘ क्योंकि ममता का जन्म ह्रदय की गहराइयों से पैदा होता है . उन अंतड़ियों में से सागर की लहरों की भांति ठांठे मारता है , जिन में 9 महीने तक उस बच्चे को रहना पड़ा था . यह शारीरिक और ह्रदय का रिश्ता है –

‘ जो बिकता नहीं ‘
‘ न ही ख़रीदा जाता है ‘
जिन बच्चों को नौकरानियां पलती हैं , उनके शरीर में अंदर ही अंदर अनेक रोग जन्म ले लेते हैं . परन्तु इस समय मैं केवल आपको यह बताना चाहूँगा कि इन रोगों में ही सबसे बड़ा और भयंकर रोग रीढ़ की हड्डी का होता है . जिसका न तो पता चलता है और न ही कोई देख सकता है .

इस article को पूरा पढ़ने के लिये Next Page पर जाये >>

Mujhe Girlfriends Chahiye

Mujhe Boyfriend Chahiye

2 Replies to “माँ-बाप की भूल के कारण बच्चों का जीवन नष्ट होता है ? – Children’s life is destroyed due to the mistake of parents ? in Hindi”

  1. आपके द्वारा आहार लेख में विटामिन की जानकारी मिली कि कौन सी विटामिन किसके खाने से मिलती है इसके लिये आप धन्यवाद के पात्र
    साथ ही आपका जो दूसरा लेख कि मां बाप की भूल के कारण बच्चों का जीवन नष्ट होता है यह लेख भी अच्छा है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.