नई रहें बनाएं – Create new Path Self Improvement In Hindi

नई रहें बनाएं – Create new Path Self Improvement In Hindi
अगर आप सफल होना चाहते हैं , तो आपको मौलिक (original) होना पड़ेगा और मौलिक होने के लिए सबसे पहले अपने आपको पहचाने , अपने स्वरुप को जाने और अपनी अन्तरात्मा की आवाज को सुने . सभी प्रकार की विघ्न-बाधाओं को हटाते हुए अपने मार्ग का स्वय निर्माण करें , तभी संसार पर आपका प्रभाव पड़ेगा . जो व्यक्ति कर्मक्षेत्र (work place) में सीना ठोककर व सिर ऊँचा कर अपनी उपस्थिति (presence) की घोषणा करता है , सारा संसार उसके आगे नतमस्तक होता है .

कोई भी काम हो , आप दूसरों की नक़ल मत कीजिए , दूसरों के पीछे मत चलिए , काम को उसी ढंग से मत कीजिए जिस ढंग से आपसे पहले वाले लोग करते आए हैं . उसे मौलिकता (originality) से , अपने नए ढंग से कीजिए और लोगों पर अपनी मोलिकता , विशिष्टता (uniqueness) और खूबी की छाप लगा दीजिए .

यह स्पष्ट कीजिए कि आपकी मौलिकता और ढंग के समक्ष पिछले ढंग बहुत मामूली थे . आपका स्वतंत्र एवं मौलिक कार्य करने का ढंग सफलता-प्राप्ति के लिए आवश्यक है . आप दृढ़ से निश्चय से काम कीजिए और इसकी चिंता न कीजिए कि आप अधिक सफल होते हैं या कम . बस , इतना ध्यान रखिए कि आप किसी की नक़ल न करें .

Newyork में एक होटल है , जो अपना विज्ञापन कभी नहीं करता , लेकिन फिर भी लोग वहां आते हैं . जब लोग लोग होटल से बाहर निकलते हैं , तो सदा उसके बारे में ही बात करते हैं . अन्य बातें समान होने पर भी वे इस होटल के ग्राहक बनना पसंद करते हैं . यदि कुछ लोगों की होटल में कमरा लेना की सामर्थ्य नहीं होती , तो वे वहां भोजन के लिए चले आते हैं .

दरअसल वे उस होटल में नए-नए फैशन तथा प्रसिद्धि व्यक्तियों को देखने जाते हैं . इसका अर्थ यह नहीं कि यदि आप नए ढंग से काम करें , तो इतने से ही आपको सफलता मिल जाएगी , बल्कि इसका अर्थ यह है कि आपकी मौलिकता प्रभावशाली और आकर्षक हो , तभी उसका कुछ मूल्य हो सकता है . प्रभावहिन एवं आकर्षणविहीन मौलिकता से लाभ नहीं होता .

ऐसे सैकड़ो लोग हैं , जो नित नए तरीकों की खोज करते हैं , पर कभी उल्लेखनीय सफलता प्राप्त नहीं कर पाते . इसका कारण केवल यह है कि उनकी मौलिकता प्रभावहिन होता है . उसमें कोई आकर्षण नहीं होता .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.