कील , मुहांसों और झाइयों की समस्या और उन्हें दूर करने के उपाय

कील , मुहांसों और झाइयों की समस्या और उन्हें दूर करने के उपाय, Muhaso ka gharelu ilaj, mulaso ko kaise dur kare..

लड़कियों और लड़कों को जवानी में और प्रोढ़ावस्था (teenage) के आसपास चेहरों पर कई पर कई तरह के परिवर्तन (changes) होते है . वे परिवर्तन स्वाभाविक वोकारों के कारण होते है तथा कील , मुहांसों व झाइयों के रूप में सामने आ जाते है .

काली कील के उपचार

यदि चेहरे पर काली कीलें हो तो चेहरे को भाप (steam) देना या सुबन से धोना लाभदायक है . निम्बू के सूखे फुल उबले पानी में मिलाकर भाप देने से भी लाभ होता है . कम-से-कम दस मिनट तक चेहरे को भाप अवश्य दी जानी चाहिए .इसके बाद जहाँ-जहाँ काली कीलें हों , उनके पास के हिस्से को tissue या cotton से हल्का सा दबाएं , फिर उस क्षिद्र को किसी तेज lotion से बंद कर दें .

यदि भाप देने पर काली कीलें न निकले तो उन्हें magnesium sulphate मिले पानी से भाप देने का उपक्रम करना चाहिए .

अधिक कड़ी कीलों के लिए इन पर थोड़ा सा बादाम रोगन लाफएं तथा गर्म towel से दबाएं . 6 drop distilled water में 20-25 कण bicarbonate मिलाकर लगाने से भी काली कीलों पर आश्चर्यजनक प्रभाव पड़ता है .

गहरी कीलों के लिए चेहरे को भाप देने के बाद एक कप गर्म पानी में एक चम्मच magnesium sulphate डालकर मिलाएं और इसे अन्य उबलते हुए पानी में रख दें तथा इसमें 3-4 बूंद iodine भी डाल दें . किसी नर्म towel को इस mixture में भिन्गोंकर कीलों पर लगाते रहें और रुई से दबा-दबाकर कीलों को निकाल दें .

दूध भी कली कीलों से छुटकारा दिलाने में सक्षम है . गर्म पानी से चेहरा धोने के बाद गर्म दूध द्वारा चेहरे को 10-15 मिनट तक स्पंज अवश्य करना चाहिए .

गर्म दूध के साथ-साथ गर्म शहद भी लाभकारी सिद्ध होता है .

दो औस ग्लिसरीन साबुन , चार औस बादाम का चुरा , एक औस मुलतानी मिटटी का घोल पानी में बनाकर रखें और इसे कई दिनों तक कीलों पर लगाएं . कीनों को साफ करने का यह उत्तम साधन है .

इस article को पूरा पढ़ने के लिये Next Page पर जाये.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.