Urine Infection क्या है ? इससे कैसे बचा जाये ?

पेशाब में दिक्कत आना या urine infection होना एक आम problem होती जा रही है ज़्यादातर पुरुष , महिलाओं या जवान लड़कियों में 100 में से 80% लोग कभी न कभी मूत्र रोगों से problem रहे होते हैं. क्रैनबेरी फल पेशाब के रस्ते में होने वाले infection का एक बेहतर प्राकृतिक उपाय है लेकिन ये इलाज सबसे effective होने के साथ साथ थोड़ा costly भी होता है क्योंकि क्रैनबेरी का फल आसानी से हर जगह available नहीं है और ये थोड़ा महंगा भी होता है. लेकिन यहाँ हम आज आपको जो उपाय बता रहे हैं वो बहुत किफायती, सस्ता और बड़ी ही आसानी से मिलने वाली चीज है और आप urine related problem से इस सस्ती चीज़ से राहत पा सकते हैं।

Urine Infection और उसका उपाय – Urine Infection Tips In Hindi

urine-infection-kya hai isay kaise bacha kaye or iska ilaj kya hai ?

मूत्र मार्ग संक्रमण यानी के urine infection दोस्तों इसके लक्षण आम और आसानी से पहचाने योग्य होते हैं। Urine infection में पेशाब के दौरान बार-बार आपको pain होता है और कई बार आपको पेशाब लगना, पेशाब के दौरान जलन होना, बुखार होना, मतली (जी मचलना) और आपके lower back में दर्द का होना ये symptom होते हैं।

Urine infection वाले व्यक्ति को घर पर बैठे हुए भी अच्छी खासी problem हो सकती है। Normally यह problem antibiotic medicine लेने से ठीक हो जाती है। लेकिन इसके कुछ घरेलू उपचार उपाय भी हैं। वो हम आपको बाद में बताएँगे पहले जान लेते हैं के आखिर urine infection होता क्यों हैं.

मूत्र जननांग क्षेत्र में (Urogenital Region) यहाँ bacteria के development होने पर मूत्र मार्ग में संक्रमण (Urine infection) होता है. दोस्तों जैसा के हमने आपको ऊपर भी बताया था के urine infection का होना आजकल एक आम problem बन गयी है और ये अक्सर तेज़ मिर्च मसालों, का सेवन, अधिक शराब पीने से, दूषित पानी पीने से, और ज़रुरत से ज़्यादा time पेशाब रोकने से भी ये हो जाता है और एक reason यह भी हो सकता है के आप बहुत लम्बे time से बीमार चल रहे हों तब भी अगर आपने सावधानी नहीं बरती तो आपको पेशाब related problem का सामना करना पढ़ सकता है.

महिलाओं को ज़्यादा सावधानी बरतना चाहिए:- महिलाओं और किशोरियों को विशेषकर गर्मी और बरसात के मौसम में खासतौर से कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए। पेशाब लगने पर यानी के जिस समय पेशाब आये उसी समय करलें तो ज़्यादा अच्छा होता है ज़्यादा देर तक पेशाब को रोकने की कोशिश नहीं करना चाहिए. क्योंकि पेशाब में बैक्टीरिया होते हैं और जब हम पेशाब को रोकते हैं तब ये ऊपर की तरफ बढ़ते हैं और ये बैक्टीरिया मूत्राशय में संक्रमण का कारण बन सकते है।

Urine infection से बचने के उपाय – Tips For Urine Infection In Hindi

यूरीन इन्फेक्शन से बचने के लिए एक बहुत ही सरल उपाय है. इन्फेक्शन का दर तब होता है जब हमारे शरीर में यूरिन बहुत ज़्यादा समय तक रुक रहे या अधिक बैक्टीरिया बढ़ जाते हैं तो भी दर वाली बात है अगर किसी को यूरीन इन्फेक्शन हो भी जाये तो इस तरह के संक्रमण के दौरान अधिक मात्र में पानी पिएं, जूस या सूप का सेवन करें क्योंकि इससे मूत्र प्रवाह बढ़ता है और किसी भी संक्रमण के होने की संभावना बहुत कम हो जाती है.

Urine infection से बचने के लिए कुछ घरेलु उपचार

खूब विटामिन सी युक्‍त जूस पी सकते हैं जैसे, अनानास, सिट्रस फ्रूट वाले फल भी जैसे के नींबू, मोसम्बी, संतरा और अनार आदि। और ज़्यादा मात्रा में पानी पीना इसका सबसे अच्‍छा उपचार तो है ही। ढेर सारा पानी पियें जिससे बैक्‍टीरिया का नाश हो सके। जों का पानी पी सकते हैं, नारियल पानी पीना भी एक अच्छा उपाय है. ध्यान रहे के जों का पानी आपके पेट में एसिड की मात्रा घटा देता है जिससे आपकी पेट को शांति मिलती है धयन रखिये सिर्फ आपके पेट की शांति की बात हो रही है नहीं तो आप कुछ और समझ लें.

यूरीन इन्फेक्शन के समय चाय, कॉफी, और चॉकलेट को हाथ भी न लगाएं। दालचीनी, और बूचा चाय की पत्तियां, हपूशाा आदि अच्‍छे घरेलू उपचार हैं। ऐसे में आप मही यानी के मठ्ठा भी पी लें तो ये सबसे अच्छा समाधान हैं। पंसारी के यहाँ एक जड़ी बूटी मिलती है जिसका नाम इचीनेशिया होता है, जो इंफेक्‍शन को फैलाने वाले बैक्‍टीरिया को मारती है। ऐसे में इस हर्ब की चाय का सेवन करने से यह बीमारी पूरी तरह से सही हो सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *