पढ़े लिखे गरीब

अब आप हमसे directly बात कर सकते हो.. ज्यादा जानकारी के लिए निचे दिए गए contact बटन पर click करे.

पढाई कितनी जरुरी है ये बात हम सब जानते है कामयाब होने के लिए पढाई बेहद जरुरी है, पर क्या बिना पढाई के कामयाबी हासिल नहीं की जा सकती और क्या पढाई ही सब कुछ है ? जब मैं छोटा था तब से ये बात सुनते आया हूँ 

पढ़ोगे लिखोगे होगे नवाब 

खेलोगे-कूदोगे होगे खराब ..

मैंने खूब मान लगाकर पढिया कि , इंजिनियर बना अपने परिवार का नाम रोशन किया … पर क्या इतना ही काफी है ? पढाई करने से आप एक बेहतर मुकाम हासिल कर सकते हो ये सच है पर कुछ हद तक.

इस विषय में मैं अपनी एक real story बताने जा रहा हूँ जो मेरे डील को छु गई ..

मुझे अपनी कंपनी की तारीफ से Mumbai भेजा गया , नया माहोल था मेरे लिए .. वह के लोग भी अच्छे थे , .. मेरे फ्लेट के बगल में एक व्यक्ति रहते थे , मुझे पता नहीं था की वो कौन है .. मेरी उनसे कभी बात नहीं हो पाई थी, एक महीने गुजर गए ,,,  एक दिन उस व्यक्ति में मुझसे कहा ” नए आये हो ? मैं तुम्हे कितने दिनों से मिलने चाहता था पर तुम अपने काम में इतना busy हो कि तुमसे मुलाकात नहीं हो पाई ..”

उन्होंने अपने परिचय दिया ” ये मेरा फ्लैट है पुरे 35 लाख में खरीदी है और बगल वाला फ्लेट भी बुक किया है मैंने , “

उनके घर के सामने 3 बड़ी-बड़ी गाड़िया थी .. उन्होंने कहा ” ये मेरी गाड़ी है “

उन्होंने पाना घर दिखया , रो कहा की मैं शर्मा construction का मालिक हूँ.. 

इतना कहते ही उन्होंने मुझसे मेरे बारे में पूछा ” मैंने कहा मैं ओडिशा में रहता हूँ और कुछ काम के सिलसिले में यहाँ आया हूँ “

बहत बाते हुई उनसे आखिर में उन्होंने पूछ ही लिया ” तुम करते क्या हो और महीने में कितना कम लेते हो ?”

मैंने कहा ” मैं इंजिनियर हूँ और करीब 35 हजार कम लेता हूँ “

इसके बाद उन्होंने जोया कहा उसे सुनते ही मेरे पैरो से मानो जमीन ही गायब हो गई हो …

उन्होंने कहा ” मैं मेट्रिक फ़ैल हूँ और महीने में मैं करीब 20 से 30 लाख कम लेता हूँ .. “

मैं उनसे उनके कामयाबी का राज पूछना चाहता था पर एक phone call वजह से उनसे ज्यादा बात नहीं हो पाई…

कुछ दिन बीते और फिर से हमे बातें करने का मौका मिला ..

तब मैंने उनसे पूछा ” sir जी आप के success होने के पीछे क्या कारण है “

उन्होंने बड़े ही मजेदार शब्दों में कहा …

” देखो दुनिया में 2 तरह के लोग होते है , पहला वो है जो किसी के under काम करते है और दूसरा वो है जो अपने under दूसरों को काम करवाते हैं .. मैं दुसरे किस्म का व्यक्ति हूँ , मुझे किसी के under काम करने पसंद नहीं … और रही बात मेरी कामयाबी का तो मेरे अन्दर एक जिद्द थी कि मैं जो चाहता हूँ वो मैं कर सकता हूँ , बिना किसी जिद्द और वजह के कोई भी इंसान कामयाब नहीं  हो सकता .. कामयाबी पाने के लिए खुद को strong साबित करना होता है …”

दोस्तों ये तो थी मेरी एक छोटी सी कहानी जो मेरे दिलो-दिमाग पर छप गयी…. अब मैं ये सोचता हम की 19 साल पढाई करने के बाद मैं किसी के under काम कर रहा हूँ , बिना वजह के मैं ऐसा काम कर रहा हूँ जो मुझे पसंद नहीं ,, इसलिए मैं अभी तक कामयाब नहीं हो सका .. जब किसी काम को करने की वजह होती है तभी वो काम ठीक से हो पता है … For example अगर आओ ठीक से पढाई नहीं करोगे तो आप फ़ैल हो जाओगे या फिर आपके नंबर अच्छे नहीं आयेंगे … पढाई करने के लिए भी वजह की जरुरत होती है , बिना वजह के अगर आप पढाई करोगे तो आप सिर्फ पास होने के लिए पढ़ रहे हो न कि कामयाब होने के लिए ..

जैसे की मैंने इस article का title रखा है ” पढ़ा लिखा गरीब ” आप सोचते होंगे कि क्या कोई पढ़-लिख के कोई गरीब हो सकता है , जी हां मैं ऐसे लोगों से मिला हूँ जो बहुत पढ़े लिखे है खूब धन भी कमाते है पर उनकी सोच एक गरीब के समान है … कहने का मतलब ये है कि खूब धन कमाने वाला गरीब नहीं होता बल्कि उसकी सोच उसे ऐसे काम कराती है जो सिर्फ एक गरीब ही कर सकता है … 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *