पीरियड्स या मासिक धर्म हर महिला की एक बायोलॉजिकल प्रोसेस (Biological process) है जो महीने में एक बार आती है। इसे MC के नाम से भी जाना जाता है। हमने अपने एक लेख में पीरियड्स जल्दी लाने के लिए टेबलेट के बारे में बताया था। ठीक उसी तरह कई महिलाओं की इच्छा यह होती है कि उनका periods घर में कोई जरूरी काम या फंक्शन होने की वजह से थोड़ा सा लेट ही हो जाए।

पीरियड्स का डेट बढ़ाने की दवा  टेबलेट में कई  तरह की दवाइयों को उपयोग में लाया जा सकता है। लेकिन इसके कुछ साइड इफेक्ट्स भी होते हैं। जिसके बारे में हमने नीचे लेख में बताआ है। इसलिए periods late hone ki dawa/tablet/medicine को उपयोग करने के दौरान आपको कुछ सावधानियां बरतनी चाहिए साथ ही साथ आपको पीरियड्स का सही डेट भी पता होना चाहिए। पीरियड्स लेट लाने की दवा या टेबलेट का सही प्रयोग के लिए आप इस लेख को अच्छी तरह से पढ़ें अन्यथा आपको कई समस्याओं से भी जूझना पड़ सकता है। 

नोट:- जब आवश्यकता रहे तब ही इस टेबलेट को इस्तेमाल करें। हर वक्त इसका इस्तेमाल आपके गर्भाशय में समस्या पैदा कर सकता है। इसके साथ कई साइड इफ़ेक्ट भी देखने को मिल सकते हैं।

पीरियड्स लेट करने के लिए Primolut-N (5-mg)

जिन दोस्तों ने पीरियड जल्दी लाने की टेबलेट के बारे में हमारे द्वारा लिखे गए लेख को पढ़ा होगा उनका यहां पर प्रश्न होगा कि आपने तो primolut N टैबलेट को तो पीरियड जल्दी लाने के लिए उपयोग करने के लिए बताया था। तो बताना चाहूंगा कि इस टेबलेट को पीरियड्स लेट करने या जल्दी करने दोनों में इस्तेमाल किया जा सकता है लेकिन हाँ! डोज अलग-अलग तय होते हैं। Primolut N tablet को  इस्तेमाल करने के लिए आप नीचे दिए गए टिप्स को फॉलो करें।

Periods late karne ki tablet ko Use karne ki tip

Primolut-N टैबलेट को बहुत ही आसान तरीके से इस्तेमाल किया जाता है ताकि periods लेट हो सके। Primolut-N को इस्तेमाल करने के लिए आपको अपने पीरियड्स का सही डेट पता होना चाहिए।

पीरियड्स शुरू होने के 3 दिन पहले आप इस गोली को दिन में दो बार लेना शुरू कर दें जब तक आप को पीरियड्स लेट करने हैं(8दिन से ज्यादा न यूज करें) तब तक इस गोली को लेते रहें जैसे ही आप इस गोली का सेवन बंद कर देंगे 3 दिन बाद आपके पीरियडस आ जाएंगे।

नोट: इस टेबलेट को डॉक्टर के सलाह के बिना न लें। वे ही इसके अलग-अलग लोगों के लिए अलग डोज तय कर सकेंगे। इसके साथ अगर आपकी कोई दवाई चल रही है तो आपको इस टेबलेट को लेने से पहले डॉक्टर से अपने दवाई के बारे में चर्चा करनी चाहिए।

periods date aage karne ki dawa का डोज अगर भूल जाए तो क्या करें

कई दफा ऐसा होता है कि पीरियड डेट आगे बढ़ाने की दवा बताए गए खुराक को महिला सही समय पर लेना भूल जाती है। मतलब अगर डॉक्टर ने बताया है कि  दिन में दो बार टेबलेट खानी है और वह सुबह के समय वाली टेबलेट खाना भूल जाती है तो ऐसे में आपको जब भी याद आ जाए कि आप टेबलेट खाना भूल गई हैं तो उसी वक्त आप टेबलेट ले लीजिए।

लेकिन ध्यान रहे की आप एक टाइम के डोज को भूलने पर टेबलेट का इस्तेमाल तभी करेंगे जब आपके पास दूसरे टाइम के डोज को लेने के लिए कम से कम 5 घंटे का समय बचा हो। ‘periods late lane ki tablet- पीरियड्स लेट लाने की टेबलेट’

इसके बारे में अगर आपका क्वेश्चन है तो आप कमेंट सेक्शन से पूछ लें।

ओवरडोज हो जाता है तो हो सकती है ये समस्याएँ: 

इसके साथ पीरियड्स लेट करने की टेबलेट के कई साइड इफेक्ट भी होते हैं, जिन्हें जानकर ही आप इनका इस्तेमाल करें। जिनके बारे में हम विस्तार रूप से नीचे चर्चा करेंगे। हमने इसके बारे में नीचे  बताया है।

पीरियड्स की डेट आगे बढ़ाने की दवा Primolut-N किन लोगों को नही उपयोग करना चाहिए

  1. जिन महिलाओं को हार्मोनल पिल के इस्तेमाल से किसी भी तरह की एलर्जी हो जाती है तो उन्हें इस हार्मोनल पिल को इस्तेमाल करने से बचना चाहिए।
  2. डायबिटीज वाले पर्सन इस टेबलेट को लेने से बचें।
  3. जो महिलाएं pregnant होना चाहती हैं, उन्हें इस टेबलेट को इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।
  4. pregnant lady भी इस टेबलेट को यूज करने से बचे। 
  5. हार्ट सम्बन्धित समस्याओं से पीड़ित लोगों को इसके सेवन से बचना चाहिए। 
  6. महिलाएं जिन्हें jaundice यानि पीलिया हुआ है, वे इस टेबलेट को इस्तेमाल करने से बचे।
  7. लीवर सम्बन्धी पीड़ित महिलाओं को इसका इस्तेमाल करने से बचना चाहिए। 

अगर आप primolut-N का ज्यादा सेवन (overdose) कर लेती हैं तो  आपको बहुत बड़ा समस्या का सामना करना पड़ सकता है। overdose की समस्या तब होगी जब आप इसे डॉक्टर के सलाह के बिना लेंगी। इसलिए मैं बार–बार ख रहा हूँ की आप इसे डॉक्टर के सलाह से ही लें।

अगर आप इसे ओवरडोज कर देती हैं तो इससे आपके आर्टरीज में ब्लड क्लॉट हो जाता है। यह क्लाट आपके हृदय तक पहुँच सकता है और आपके धड़कन को बंद कर सकता है। जिससे आपकी मौत भी हो सकती है। कभी कभी यह क्लाट आपके ब्रेन तक पहुंच जाता है और आपको ब्रेन स्ट्रोक का खतरा बढ़ जाता है। यानी की आपको लकवा मार सकता है।

इसलिए उपयोग से पहले डॉक्टर से जरूर पूछ लें। और अगर आपको कोई बीमारी है और दवाई खाते हैं तो उस दवाई के बारे में भी डॉक्टर से बता दें अन्यथा यह गोली उससे रिएक्शन कर के आपके स्वास्थ्य के खतरे को बढ़ा सकती है।

Primolut-N के साइड इफ़ेक्ट भी हो सकते हैं

  • इससे आपको पीलिया की समस्या हो सकती है।
  • एलर्जी की समस्या हो सकती है। 
  • पिम्पल्स हो सकती है जो नार्मल है।
  • वेट का बढ़ जाना, कुछ दिन में नार्मल हो जाता है।
  • पेट में दर्द होना जो सामान्य है।
  • पीरियड्स न होने पर हल्की spotting होना नार्मल है जिसमें आपको घबराने की जरूरत नहीं है।
  • आदि कई साइड इफ़ेक्ट जो नीचे दिखाई दे रहे हैं। इसलिए अगर आपको साइड इफ़ेक्ट नजर आते हैं तो आपको तुरंत ही किसी अच्छे डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।

अगर इनमे से कोई  भी साइड-इफ़ेक्ट आपको नजर आए तो आपको तुरंत ही डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।