आज का हमारा पोस्ट उन सभी ब्लॉगर भाइयों के लिए है जो ये समझते हैं कि Blogging और Adsense एक ही है, और वो अपने ब्लॉग के जरिए Adsense Approval पाने में लगे हुए है। मुझे बहुत से लोग कमेंट के जरिए और व्यक्तिगत रूप से मैसेज के जरिए पूछते हैं कि Adsense approval के लिए कितना पोस्ट publish करे और ब्लॉग की ट्रैफिक क्या होनी चाहिए। इन दोनो सवालों का जवाब हमने अपने पिछले पोस्ट में पहले ही दे दिया है, आप उस पोस्ट को पढ़े।

अगर आपने इन दोनो पोस्ट को पढ़ा है तो आप ये जरूर समझ गये होंगे कि Adsense ना आपके ब्लॉग ट्रैफिक और न ही आपके पोस्ट संख्या को देखती है। और इसी के बारे में आज हम विस्तार से जानेंगे।

Blogging और Adsense दोनों अलग अलग हैं

Blogging और Adsense के बारे में आप जानते तो होंगे, और आप ये भी जानते होंगे कि Adsense सिर्फ एक जरिया है अपने ब्लॉग के जरिए पैसे कमाने का, लेकिन बहुत से लोग इन दोनो चीजों के एक जैसा समझते है और हमेशा यही सोचते हैं कि ट्रैफिक नही बढ़ेगी तो Adsense approval नही मिलेगा, या फिर अगर ब्लॉग पर कम पोस्ट होंगे को Adsense approval पाना मुश्किल है।

ऐसा नही है, Adsense सिर्फ़ आपके ब्लॉग की quality को monitor करती है। Adsense ये देखती है की आपका ब्लॉग adsense terms and condition को कितना फॉलो करता है।

अगर आपका ब्लॉग Adsense के लिए योग्य है तो आपको Adsense approval मिल जाती है। इसलिए कभी ये मत सोचिए की ब्लॉग ट्रैफिक और पोस्ट संख्या आपका Adsense approval करवा सकती है।

अब सवाल ये आता है की ऐसा लोग क्यूँ सोचते है कि Adsense और Blogging एक ही है?

इसकी मुख्य वजह है गूगल। Adsense और Blogger गूगल का ही सर्विस है, और ज्यादातर लोग blogger.com पर ही अपना पहला ब्लॉग बनाते है। बस यही कारण है कि लोग ये समझ लेते है की Blogging और Adsense एक ही है।

अगर आप भी ऐसा सोचते हो कि Adsense और Blogging एक ही है तो आप हमेशा उलझे रहोगे की blogging करना है या फिर Adsense approval पाना है। और ये उलझन की वजह से ना तो आप blogging कर सकोगे और ना ही आपका Adsense approval मिलेगा।

अगर आप सिर्फ़ अपने ब्लॉग पर फोकस करोगे और रोजाना blogging करोगे तो आप सबसे पहले तो ये समझ सकोगे कि blogging आख़िर है क्या, और यही अनुभव हमें एक Blogger बनाती है। और जब आप एक Blogger बन जाओगे तो आप blogging की वो basic concept को आसानी से समझ सकते हो जो एक Blogger को सफल बनाती है।

Blogging करने का ये मतलब नही होता कि आप सिर्फ़ Adsense approval पाने के लिए blogging कर रहे हो, इसका तो यही मतलब होता है कि आप अपने ब्लॉग के जरिए अपने अनुभव को शेयर और व्यक्त करने का काम कर रहे हो। जो की आपको हर स्टेप्स में आपकी मदद करेगी, चाहे Adsense approval हो या फिर लोकप्रियता। Happy Blogging