ब्रेकअप के बाद अपनी Ex गर्लफ्रेंड का दिल कैसे जीते | 10 Steps And Tricks

सही में ब्रेकअप बड़ा दुख भरा होता है और इसका असर दोनो तरफ पर पड़ता है। ब्रेकअप के कारण कभी कभार ये आपको अंदर से झकझोर देता है फिर उससे निकलना बड़ा ही मुश्किल सा हो जाता है। अगर आप का भी ब्रेकअप हो चुका है और आपको अपनी गलती का अहसास है और अपनी गर्लफ्रेंड को दोबारा हासिल करना चाहते है तो इस आर्टिकल में बताए गए सभी तरीके आपकी जरूर मदद करेंगे।

Ex Girlfriend ko fir se girlfriend kaise banaye?

ब्रेकअप के बाद दोबारा अपनी गर्लफ्रेंड को रिश्ते पर रखने में बहुत ही मुश्किल हो जाता है। लेकिन हमारे पास इसका भी तोड़ है नीचे हमने कुछ ऐसे उपाय बताए है जिसकी मदद से आप ऐसा कर सकते हो।

ब्रेकअप के बाद अपनी Ex गर्लफ्रेंड का दिल कैसे जीते? 10 उपाय

1. सबसे पहले खुद को संभाले

ब्रेकअप चाहे किसी की वजह से क्यों ना हो पर असर दोनो तरफ पर पड़ता है। अगर आप ब्रेकअप के बाद फिर से अपनी गर्लफ्रेंड को पाना चाहते है तो सबसे पहले आपको अपने आपको संभालना होगा। जो हो चुका उसे भूल जाए और नये सिरे से शुरुआत करे। दुखी होने की कोई जरूरत नहीं है और ना ही उसके यादों में खोने की, ऐसे में आप अपने आपको संभाल नहीं पाओगे और बस उसके यादों में ही खोए रहोगे।

ज़्यादातर नौजवान ब्रेकअप के बाद कुछ ऐसे कदम उठा लेते है जिसकी वजह से उनके घर वालो को जिंदगी भर पछताना पड़ता है। हमारा आपको ये सलाह है कि सबसे पहले अपने आपको संभाले और अगले स्तर के लिये तैयार रहे।

2. उस कारण को जाने जिस कारण ब्रेकअप हुआ

खुद को संभालने के बाद अब आपको ठंडे दिमाग से ये समझना होगा कि ब्रेकअप का क्या कारण था कि जिस कारण ये सब कुछ हुआ। गलती चाहे किसी की भी थी लेकिन क्यों हमने समझदारी नहीं रही। ऐसी बहुत सी बातों को एक note book में लिख ले और एक-एक करके उनके बारे में सोचे और इन सब गलतियों को सुलझाने और समाधान करने की कोशिश करे। गलती सुलझ जाने के बाद आप खुद कहेंगे कि हाँ यार अगर ये सब गलतियाँ हम उसी समय सुलझा लेते तो शायद ब्रेकअप ना होता।

3. अपने आपको समय दे और खुद को Recover करे

ब्रेकअप के बाद आपको अपने आपको समय देना पड़ेगा recover होने के लिए। पिछली बातों को भूल जाए और नये सिरे से जिंदगी को शुरू करे। जैसे आप ब्रेकअप से पहले रहते थे एक दम cool, हंसी-मजाक करने वाले वैसे ही अपना व्यवहार रखे। ऐसे में आप अपने आपको एक fresh सा महसूस करोगे। माना की ये करना बहुत मुश्किल है लेकिन अगर आपको अपनी गर्लफ्रेंड दोबारा चाहिए तो आपको इतना तो करना होगा।

4. कुछ दिनों के लिए दूरी बना कर रखे

ब्रेकअप के बाद तुरंत उससे संपर्क ना करे ऐसे में वो चिड़चिडी हो जाएगी। कुछ दीनो के लिए दूरी बना कर रखे, ना ही call करे और ना ही social media पर sms वग़ैरा करे। ऐसा हम आपको इसलिए कह रहे है क्योंकि जितनी दूरी रहेगी उतना ही आप एक दूसरे को याद करोगे। क्या पता आपकी गर्लफ्रेंड थोड़े दीनो की दूरी के बाद आपसे संपर्क कर ले और बात बन जाए। लेकिन ऐसा बहुत कम होता है पर फिर भी उम्मीद पर तो दुनिया कायम है।

5. धीरे-धीरे उस तक पहुचने की कोशिश करे

इतना सब कुछ करने के बाद अब आपको उस तक पहुचने की कोशिश करनी चाहिए। उस तक पहुचने के लिए सब से बड़ा हथियार है उसके दोस्त। उसके दोस्तों के साथ संपर्क बनाइये और उनके साथ घूमे, वैसे तो पहले से ही उसके दोस्तों के साथ आपके संपर्क तो होंगे। जब आप उससे मिले तो अपना व्यवहार वैसे ही रखे जैसे आप ब्रेकअप से पहले थे। कसम से वो एक समय के लिए चकित हो जाएगी कि इसे हुआ क्या है। बस जब एक बार आप उसके ख्याल में आगए तो उसके दिल में भी उतर ही जाओगे।

6. अपने आप में बदलाव लाए

ब्रेकअप के बाद बदलाव लाना बहुत ही जरूरी है क्योंकि बिना बदलाव के आप ये सब नहीं कर पाओगे। कोशिश करे कि जैसे आप ब्रेकअप से पहले थे उससे ज्यादा ही अपने में बदलाव लाए। नये सिरे से शुरुआत करने के लिए आपको कुछ नया तो करना ही पड़ेगा। सबके साथ ऐसा व्यवहार करे कि जैसे कुछ हुआ ही नहीं हो। जब आप उससे मिलो तो उससे सामान्य व्यवहार करे।

7. उससे दोस्ती के लिए हाथ बढ़ाये

अब समय आ चुका है उसे दोबारा रिश्ते में लाने का। लेकिन इससे पहले उसका पता लगाए कि कही वो किसी के साथ संबंध में तो नहीं है। अगर है तो ये सब कुछ करने का कोई फायदा नहीं अपने लिए कोई दूसरी ढूँढ लो भाई लेकिन अगर उसका कोई बॉयफ्रेंड नहीं है तो समझ लीजिए कि अभी भी उसके मन में कुछ है।

उसे सिर्फ दोस्ती के लिए offer करे, दोबारा उससे जुड़ने का ये एक सबसे अच्छा तरीका है। अगर आप उससे सीधे ही गर्लफ्रेंड बनाने के लिए उसको बोलोगे तो वो एक दम shock हो जाएगी और क्या पता काम भी बिगड़ जाए, तो इतना जोखिम क्यों लेना।

8. धीरे-धीरे उसे अहसास जताए कि आपने क्या खोया है

दोस्त बनाने के बाद अब बारी आती है कि उसे अहसास जताए कि आपने क्या खोया है। उसे महसूस कराए लेकिन दोस्त के तौर पर।

9. कही बैठ कर बात करे

जब आप एक दोस्त बन गये हो तो धीरे-धीरे अपनी पिछले बातों को बातों-बातों में छेड़ दे। लेकिन ध्यान रखे कि ये सब बात दोस्त बनाने के तुरंत बाद ही ना बोल दे, दोस्त बनाने के थोड़े दीनो के बाद ये बातें छेड़े। अगर वो भी आपकी पिछली बातों पर गंभीर लगे तो उसके साथ कही बैठ कर बात करे। उससे बात करे कि हमने कहा-कहा गलती करी है। ठंडे दिमाग से बात करे और अपनी ग़लतियों को माने। फिर देखिए समस्या कैसे सुलझ जाती है।

10. दोबारा शुरुआत करे

बात करने के बाद, समस्या सुलझ जाने के बाद आप दोबारा शुरुआत कर सकते हो लेकिन इस बारी पिछले ग़लतियों को ध्यान में रखे और भविष्य में ऐसी गलती ना करे। जो ग़लतियों से सीखता है वही समझदार होता है। आपस में अपने समझदारी रखे और एक दूसरे को समझे।

एक टिप्पणी भेजें