तम्बाकू खाना कैसे छोड़े? How to quit tobacco? in Hindi

पूरे दुनिया में लाखों, करोड़ो लोग तम्बाकू और अन्य प्रकार का नशा करते है, जो शायद उन्हें एक मामूली बात लगती होगी। पर ऐसा करके वे अपने परिवार और बच्चों को धोखा देते है। देश में हर साल लाखों लोग तम्बाकू से होने वाली विभिन्न बिमारियों का शिकार हो रहे है। तम्बाकू एक slow poison है, जो हमें धीरे-धीरे मौत के करीब ले जाती है।

कुछ लोग जाने अनजाने में इसका उपयोग करने लगते है, कुछ लोग style मरने के चक्कर में, कुछ लोग गम में इसका उपयोग करने लगते है। पर ये उनके लिए आदत बन जाती है और तम्बाकू के बिना नहीं रह सकते, उन्हें इसकी लत लग जाती है। तम्बाकू का उपयोग करना या फिर यूँ कहे कि तम्बाकू का सेवेन करना जैसे- बीड़ी, सिगरेट, खैनी, गुटखा, जर्दा, गांजा आदि है।

क्या आप जानते है?

तम्बाकू nicotiana tabacum नामक plant कि पत्नियों से बनती है, जिसमे निकोटीन नाम का रासायनिक पदार्थ रहता है। निकोटीन का सेवन करने वाले लोग इसके लत का शिकार हो जाते है। इसका लत पड़ जाने पर इससे शरीर के विभिन्न अंगों में कैंसर का ख़तरा बढ़ जाता है। साथ ही दूसरी ओर हृदय रोग होने का ख़तरा भी बढ़ जाता है।

तम्बाकू कि लत लगने के कई कारण हो सकते है जैसे-

  • गम भुलाने के लिए
  • दोस्ती के चक्कर में
  • style मरने के लिए
  • दवाव में
  • खराब सांगत में
  • कम उम्र में खुद को बड़ा दिखने के चक्कर में
  • धुएँ उड़ने के चक्कर में
  • आस-पड़ोस का माहौल या फिर घर के माहौल में खुद भी वैसा करना जैसे बड़े करते है।

आपने भी अधिकतर कम उम्र में लोगों को दोस्तों के साथ cigarette, गुटखा का शौकिया रूप से सेवन करते देखा होगा। लेकिन कब ये शौक आदत और आदत से लत में बदल जाता है पता ही नहीं चलता और जब तक पता चलता है तब तक शरीर को बहुत नुकसान पहुंचा चुका होता है।

तम्बाकू क्यों हानिकारक है?



तम्बाकू के सेवन से अनेक प्रकार के शारीरिक रोग जो जन्म देता है। इससे होने वाले मुख्य रोग है – mouth, गला, श्वसन नली, lung और शरीर के अन्य भागों का cancer, heart diseases, asthma, high blood pressure, पेट का ulcer, अम्लपित्त, अनिद्रा आदि शामिल है।

15-20 साल तक नियमित सेवन cancer कि संभावना को और भी बढ़ा सकता है।

अगर कोई महिला pregnancy के दौरान तम्बाकू का सेवन करती है तो ये गर्भपात (miscarriage) और abnormal बच्चे के जन्म का कारण बन सकती है।

ये मौत का भी मुख्य कारण है जिसे रोका जा सकता है।

हर साल 5 lakh से ज्यादा लोग तम्बाकू के दुश-प्रभाव के कारण अपनी जान गवा देते है।

Cigarette में भी तम्बाकू का उपयोग किया जाता है।

Smoking करने वाले व्यक्ति अपने वातावरण में जो धुवां छोड़ते है उसमे 4000 रसायन मौजूद होते है।

तम्बाकू में nicotine, nitrosamine, banjo piercing, arsenic और chromium आदि cancer पैदा करने वाला प्रमुख तत्व पाए जाते है। साथ ही यह शारीरिक रोग को जन्म भी देते है।

जब smoking नहीं करने वाले लोग भी इन वस्तुओं के लेते व्यक्तियों के धुएँ के सामने में आते है तो ये उनकी शरीर के लिए भी बहुत खतरनाक साबित होता है।

तम्बाकू के cancer रोगियों को अपने आहार में आवश्यक सुधार करना चाहिए।

उन्हें अपने भोजन में anti-oxidant युक्त फलो और सब्जियों को प्राथमिकता देना चाहिए।

Fiber युक्त मतलब रेशेदार आहार का भी पर्याप्त मात्रा में सेवन करना फ़ायदेमंद होता है, ताकि आंतो की क्रिया का संचालन बेहतर ढंग से हो सके।

आंतो के सुचारु संचालन के कारण ही शरीर से नुक़सानदेह पदार्थ मल द्वारा बाहर निकल जाते है।

कैसे तम्बाकू खाना छोड़े?

भारत में तम्बाकू कि पैदावार का 19% से भी ज्यादा खाने के काम में लिया जाता है। उत्तर प्रदेश में इसका सबसे ज्यादा खपत गुटखे के रूप में हो रही है। गुटखे में Gambier होता है, जो एक तरह के कैंसर को जन्म देता है। तम्बाकू में कई प्रकार के अत्यंत नुक़सानदेह पदार्थ मिले होते है। जो मुख के कैंसर और अन्य प्रकार के cancer का कारण बनते है।

इसे छोड़ने के लिए पहले आपको खुद से पक्का वादा करना होगा कि आप कभी इसे हाथ नहीं लगाएंगे, लेकिन ये इतना आसान नहीं है। इसके लिए आप तम्बाकू से होने वाले समस्याओं को ध्यान में रखे जो आपको इसे छोड़ने में मदद कर सकता है। साथ ही आपने आत्मविश्वास में कमी ना आने दे।

अपनी daily routing में बदलाव करे। समय से सोना, सूरज निकलने से पहले उठना, सुबह-सुबह पार्क जाना, योगा और प्राणायाम करना और healthy diet बनाना। नशे की आदत को एक बार में छोड़ना बहुत मुश्किल होता है इसलिए इसे एकदम छोड़ने कि बजाय धीरे-धीरे करके छोड़ने का प्रयास करना चाहिए। साथ ही अपने मित्रों और परिचितों का सहयोग ले तथा नशा करने वाले लोगो से दूर रहे।

एक diary बनाए और उसमे लिखे की आप कब और कितनी मात्रा में नशा करते है तथा इसका कारण क्या होता है। पिने वाले पदार्थों का सेवन अधिक करे। शराब, cigarette, coffee तथा मीठी चीजों और अधिक calorie वाले पदार्थों का सेवन ना करे। कम calorie युक्त खाद्य पदार्थों को अपनाये।

जब भी तम्बाकू खाने का मन करे तो कुछ अन्य चीजों का प्रयोग करे तथा डॉक्टर से consult करके, चूसने वाली नशा मुक्त दवाइयों का भी इस्तेमाल करे। अपने घर में तम्बाकू या इससे बने किसी भी पदार्थों को बिल्कुल ना रखे। आपको अपनी सोच में भी changes लाना होगा। बस आज last बार तम्बाकू खा लू कल से छोड़ दूँगा, ये सोच आपको कभी इससे मुक्त नहीं कर पायेगी। इसलिए कल का इन्तेजार ना करते हुए आज से ही शुरुवात करें।

तम्बाकू छोड़ने के घरेलू उपाय

सौंप और अजवाइन को 50 gm की मात्रा में लेकर तवे पर हल्का भुन ले साथ ही थोड़ा निम्बू का रस और हल्का काला नमक भी मिला ले। इस mixture को एक डिब्बे में रख ले। जब भी आपको तम्बाकू की तलब लगे तो आप यह mixture को मुंह में चूसते रहे। ऐसा करने से नशे की तलब कम होगी।

सूखेआवले के टुकड़े, इलायची, सौंप और हरद को मिलाकर अपने पास रख ले। जब भी नशा करने की तलब लगे तो इन टुकड़ो को मुंह में रख ले और चबाते रहे। इनसे तलब तो कम होगी ही साथ ही खट्टी डकार, भूख ना लगने और पेट फूलने की समस्या में भी आराम मिलेगा।

अदरक आसानी से सभी घरों में मिल जाता है। यह तो आप भी जानते होंगे कि अदरक कई गुणों से युक्त होता है। यह नशा छुड़ाने में भी बहुत सहायक साबित होता है। अदरक के छोटे-छोटे टुकड़े कर उसमे निम्बू का रास, कला नमक मिला ले और धुप में सुखा ले। अच्छी तरह सुख जाने के बाद इसको अपने पास रख ले। जब भी दिल में गुटखा खाने कि इच्छा जाहिर हो तो इसे मुंह में रखकर चूसना शुरू कर दें।

जैसे ही इसका रास लार में घुलना शरू हो जाएगा आप देखना इसका चमत्कारी असर, अगर आप इसे daily use करते हो तो आपको कभी नशा करने की तलब उठेगी ही नहीं। साथ ही धीरे-धीरे नशे की आदत भी समाप्त हो जाएगी।

छोटे हरद, निम्बू का रास और सेंध नमक मिलाकर इन्हें 2 दिन के लिए ऐसा ही छोड़ दे। फिर इसे निकालकर, शीशी में बाहर रख ले और थोड़ी-थोड़ी देर में मुंह में रखकर चूसते रहे। हल्का गरम पानी में निम्बू रास और honey मिलाकर नियमित सेवन करे, यह आपकी नशे की लत को दूर करने में help करेगा साथ ही नशे के विशाक्त पदार्थों को शरीर से बाहर निकालता है।

आज आपने क्या जाना?

आज आपने जाना कि तम्बाकु खाने से क्या होता है और साथ में ये भी जाना कि तम्बाकु खाना कैसे छोड़े। हमे पूरी उम्मीद है कि आप भी तम्बाकु खाना छोड़ दोगे और अपने जीवन को healthy बनाओगे। अगर आपको ये post अच्छी लगी तो comment के जरिये जरुर बताये। धन्यवाद

एक टिप्पणी भेजें