बाउंस रेट कैसे कम करे 51 लोकप्रिय तरीके 2019

कोई भी ब्लॉगर चाहता है कि उसके ब्लॉग पर आने वेल विज़िटर्स उसके ब्लॉग पर ज़्यादा से ज़्यादा समय बिताये. आखिर हमने ब्लॉग तो विज़िटर्स के लिए ही बनाया है, लेकिन वही विज़िटर्स आपके ब्लॉग के सिर्फ़ एक ही पेज को विज़िट करके चले जाए तो बुरा तो लगता ही है. आपने अपने ब्लॉग पर बहुत मेहनत भी की है और अपने ब्लॉग पर बहुत सारे पोस्ट भी पब्लिश की है, लेकिन अगर आपके ब्लॉग का content लोगो को पसंद ना आए तो वो आपके ब्लॉग के दूसरे पेज को क्यों विज़िट करेंगे.

Bounce rate kaise kam kare 51 popular tarike 2018

अगर आप अपने ब्लॉग के उन विज़िटर्स के बारे मे पता करना चाहते है जो आपके ब्लॉग के सिर्फ़ एक पेज को विज़िट करने के बाद आपके ब्लॉग को छोड़ कर चले जाते है तो आपको अपने ब्लॉग के बाउंस रेट के बारे मे जानना होगा, और कैसे बाउंस रेट हो कम किया जाता है उसके बारे में भी जानना होगा.

आज हम आपको बाउन्स रते कम करने के 51 पॉपुलर तरीक़ो के बारे मे बताने वाले है, लेकिन उससे पहले हम आपको बाउंस रेट के बारे मे थोड़ी जानकारी देना चाहेंगे जिससे आप ये समझ सको की बाउंस रेट होता क्या है और इसे कम करना क्यों ज़रूरी है.

बाउंस रेट क्या होता है ?

ब्लॉग्गिंग से संबंधित किसी भी तरह कि सहायता के लिए आप हमसे whatsapp के जरिये सम्पर्क कर सकते हो। हमारा whatsapp नंबर है 8249263031

Bounce rate kaise kam kare

आप Goolgle analytic >> Home में जाकर अपने ब्लॉग के बाउंस रेट के बारे में पता कर सकते हो, पर आपने कभी ये सोचा है कि ये बाउंस रेट होता क्या है ? बाउंस रेट का मतलब होता है कि कितने percent विज़िटर्स ब्लॉग के सिर्फ़ एक पेज को विज़िट करने के बाद ब्लॉग को छोड़ के चले गए. आपने उपर दिए गये तस्वीर में देख सकते है कि हमारे ब्लॉग का बाउंस रेट है 51.91% है, यानी कि हमारे ब्लॉग पर आने वाले 51% विज़िटर्स हमारे ब्लॉग के सिर्फ़ एक पेज को विज़िट करने के बाद चले जाते है.

बाउंस रेट आपके ब्लॉग की लोकप्रियता भी बताता है, आप अपने बाउंस रेट को देख कर ये बता सकते हो की कितने percent विज़िटर्स आपके ब्लॉग को पसंद करते है और कितने percent विज़िटर्स आपके ब्लॉग को पसंद नही करते.

बाउंस रेट को कम करना क्यूँ जरुरी है ?

अगर आप चाहते हो कि आपके ब्लॉग पर आने वाले ज्यादा से ज्यादा विज़िटर्स आपके ब्लॉग के दूसरे पोस्ट को भी पढ़े तो आपको अपने ब्लॉग में कुछ इस से बदलना करना होगा कि आपके ब्लॉग का बाउंस रेट कम हो जाए. बाउंस रेट सीधे आपके ब्लॉग के SEO से सम्बंधित होता है, क्योंकि बाउंस रेट ज़्यादा होने का मतलब होता है कि आपके ब्लॉग को विज़िटर्स पसंद नही करते और सिर्फ़ एक पेज को विज़िट करने के बाद आपके ब्लॉग के दूसरे पोस्ट को पढ़ना नही चाहते.

बाउंस रेट सीधे आपके ब्लॉग कि लोकप्रियता पर असर डालता है, ब्लॉग को पॉपुलर बनाने के लिए उसका बाउंस रेट भी कम होना ज़रूरी है और अगर एक बार आपका ब्लॉग पॉपुलर हो गया तो समझ जाए की सर्च इंजन में आपका ब्लॉग अच्छा रैंक हासिल कर लेगा.

बाउंस रेट कम करने के 51 लोकप्रिय तरीके

एक बात तो साफ़ है कि बाउंस रेट अपने आप कम नही होगी, और बाउंस रेट को कम करने के लिए हमे अपने ब्लॉग को ही ऐसा बनाना होगा कि विज़िटर्स ज़्यादा से ज़्यादा अपना समय ब्लॉग में गुजारे. और आज हम आपको वो सभी तरीक़ो के बारे मे बताने वाले है जिसे फॉलो करके आप अपने ब्लॉग का बाउंस रेट कम कर सकते हो.

नीचे ह्यूम वो सभी 51 पॉपुलर तरीक़ो के बारे मे बताया है जिससे आप आसानी से अपने ब्लॉग के बाउंस रेट को कम कर सकते हो, इन सभी तरीक़ो में से आप बहुत से तरीक़ो को अपने ब्लॉग पर पहले से ही इस्तेमाल करते होगे, इसलिए इस आर्टिकल को पूरा पढ़े, ताकि आप वो सभी तरीक़ो के बारे मे भी जान सको जो आपने ब्लॉग के बाउंस रेट को कम करने के लिए ज़रूरी है.

आर्टिकल में बदलाव करके बाउंस रेट कम करे

बाउंस रेट कम करने के लिए सबसे पहले हमे अपने ब्लॉग पोस्ट को ऐसा लिखना और बदलाव करना होगा की कोई भी हमारे ब्लॉग पोस्ट को पूरा पढ़े. अगर कोई आपके ब्लॉग पोस्ट को पूरा पढ़ता है तो वो आपके दूसरे ब्लॉग पोस्ट को भी जर्फुर पढ़ेगा, इसलिए सबसे पहले हमे अपने ब्लॉग पोस्ट को पूरा पढ़ने लायक बनाना होगा. आप नीचे दिए गये पॉइंट को फॉलो करे और अपने आर्टिकल को पूरा पढ़ने लायक बनाए.

1. High Quality आर्टिकल लिखे – अगर आपके ब्लॉग में ज्यादातर ऐसे आर्टिकल है जिसमे quality नही है तो कोई भी आपके आर्टिकल को पूरा नहीं पढ़ेगा और अगर एक आर्टिकल पूरा पढ़ भी लेता है तो वो आपके ब्लॉग के दूसरे आर्टिकल को पढ़ना नहीं चाहेगा. इसलिए हमेशा अपने ब्लॉग पर high quality आर्टिकल्स पब्लिश करे अगर आपके ब्लॉग में low quality आर्टिकल है तो उसमे बदलाव करे और उसे high quality आर्टिकल में बदले.

2. पोस्ट टाइटल को आकर्षक बनाये – जब भी कोई विज़िटर आपके पोस्ट को पढ़ता है तो सबसे पहले आपके पोस्ट टाइटल को पढ़ता है अगर आपके ब्लॉग पोस्ट का टाइटल आकर्षक होगा तो कोई भी आपके ब्लॉग पोस्ट को ज़रूर पढ़ना चाहेगा. इसलिए हमेशा अपने पोस्ट टाइटल को आकर्षक बनाए और अपने पुराने पोस्ट के टाइटल में बदलाव करके उन्हें आकर्षक बनाये.

Non Attractive post title – Seo ki जानकारी
Attractive post title – Seo कि पूरी जानकारी हिन्दी में तस्वीर के साथ

3. जानकारीपूर्ण पोस्ट लिखे – हमेशा जानकारीपूर्ण post यानि कि informative पोस्ट लिखे, जानकारीपूर्ण पोस्ट को आसानी से समझा जा सकता है और लोग इसे पूरा पढ़ते भी है. अपने पोस्ट को informative बनाने के लिए अपने पोस्ट में अपनेवास्तविक जीवन का अनुभव भी add करे.

4. अपने पोस्ट पर focus करे – बहुत से ब्लॉगर है जो अपने ब्लॉग पोस्ट मे इतना बेकार-बेकार की बातों को शेयर करते है जिसे पढ़ने के बाद लोग भ्रमित हो जाते है कि आप कहना क्या चाहते हो. हमेशा अपने ब्लॉग पोस्ट के टाइटल पर focus करे और उसी के हिसाब से आर्टिकल लिखे.

5. पोस्ट में शब्द संतुलन बनाए रखें – आर्टिकल के main part और introduction part में संतुलन होना बहुत ज़रूरी है. अगर आप ऐसा आर्टिकल लिख रहे हो जिसका main part 300 शब्दों का है, पर आपने उसका introduction part को 800 शब्दों का लिख दिया है तो कोई भी आपके ब्लॉग पोस्ट को पूरा नहीं पढ़ेगा. इसलिए हमेशा अपने ब्लॉग पोस्ट के introduction part को main part की तुलना में कम सब्दों का इस्तेमाल करे.

6. पोस्ट quality पर focus करे – बहुत से ब्लॉगर ऐसे भी है जो अपने ब्लॉग पर पोस्ट की quantity बढ़ाने मे लगे रहते है, पर सिर्फ़ पोस्ट की quantity पर focus करने से आपके ब्लॉग का content तो improve होगा लेकिन पोस्ट में quality ना होने की वजह से पोस्ट कभी भी सर्च इंजन पर अच्छा रैंक हासिल नही कर पायेगी.

7. पोस्ट first paragraph को informative बनाये – First impression is last impression, ये कहावत तो आपने सुनी ही होगी.. ब्लॉग पर आने वाले विज़िटर्स आपके ब्लॉग पोस्ट को तभी पूरा पढ़ते करते है जब उन्हे आपके ब्लॉग पोस्ट का first peragraph informative लगता है. अगर विज़िटर्स आपके ब्लॉग पोस्ट के first peragraph को पढ़ लेते है तो समझ जाइये कि वो आपके पुरे post को भी जरुर पढेंगे, इसलिए अपने ब्लॉग पोस्ट के first paragraph को informative बनाए.

8. Visitors का समय बर्बाद ना करे – ऐसा आर्टिकल कभी ना लिखे जिसे पढ़ने के बाद लोगों का समय बर्बाद होता हो और उन्हे कोई जानकारी ना मिलती हो.

9. Visitors के लिए लिखे – अपने ब्लॉग पर आने वाले विज़िटर्स को ध्यान में रखते हुए आर्टिकल लिखे.

10. ब्लॉग टॉपिक से सम्बंधित आर्टिकल लिखे – मान लीजिए कि आपका ब्लॉग health टॉपिक से है तो आप हमेशा अपने ब्लॉग पर health के बारे मे ही आर्टिकल लिखे.

11. दुसरे पोस्ट को बढ़ने के लिए कहे – अपने ब्लॉग पोस्ट के आखिर मे अपने विज़िटर्स को कहे कि वो आपके दूसरे ब्लॉग पोस्ट को भी पढ़े. ऐसा करने से विज़िटर्स जिन्होने आपके पुरे post को पढ़ा है वो आपके दूसरे पोस्ट को भी पढ़ने के लए प्रेरित होंगे.

12. Bold और italic letter इस्तेमाल करे – अपने ब्लॉग पोस्ट को प्रभावशाली दिखाने लेने के लिए आप अपने ब्लॉग पोस्ट के अहम-अहम सब्दों और paragraphe को bold और italic स्टाइल मे दिखा सकते हो. Bold और italic letter से विज़िटर्स आकर्षित होते है और आपके पोस्ट को पूरा भी पढ़ते है.

13. ब्लॉग पोस्ट में emoji use करे – अपने ब्लॉग पोस्ट को प्रभावशाली और आकर्षक बनाने का सबसे बेहतर तरीका है कि आप अपने ब्लॉग पोस्ट में emoji use करे. Emoji use करने से आप अपने ब्लॉग पोस्ट को बहुत ही impressive look दे सकते हो जिससे विज़िटर आपके ब्लॉग पोस्ट को पूरा read जरुर करेंगे.

14. Small paragraph लिखे – ज़्यादा बड़ा peragraph लिखने से कोई भी उसे पढ़ने के दौरान bore हो जायेगा. हमेशा अपने ब्लॉग paragraph को 150 से 200 शब्दों के अंदर ही लिखे.

15. Long पोस्ट लिखे- Long पोस्ट लिखने का मतलब होता है कि आपने अपने ब्लॉग पोस्ट को लिखने में बहुत समय लगाये है और जितना ज़्यादा समय लगेगा पोस्ट की words भी improve होगी और पोस्ट informative भी. पोस्ट लिखने से लोगो को ये साफ हो जाता है कि आपके ब्लॉग पर quality आर्टिकल है और वो आपके आर्टिकल को पूरा read करते है. हमेशा word balance पर ध्यान ज़रूर दे.

16. Paragraph title me header tag use kare – Paragraph title ko header tag me use karne se wo seo friendly to hoti hi hai or sath hi sath visitors ko clear idea mil jata hai ki paragraph kis topic par hai.

17. Spelling mistake na ho – Apne post me bahut jyada spelling mistakes hone se bhi visitors aapke post ko full read nahi karte hai. Spelling mistakes hone ki wajah se visitors ko kuch samajh me nahi aayega ki aap kya kahna chahte ho. Isliye hamesa ye dhyan rakhe ki aap jo bhi post publish karte ho ya fir publish kar chuke ho usme koi spelling mistake na ho.

18. Tough words use na kare – Kabhi bhi apne post me tough words use na kare , aisa karne par visitors ko aapke likhe gaye words ko samajhne me problem hogi. Jitna ho sake apne blog ko simple or common language me likhe taki logo ko aapka post puri tarah samajh me aa jaye or wo aapke post ko pura read kare.

19. Communicative post likhe – Hamesa aisa post likhe jaise ki aap apne visitors ke sath baat kar rahe ho.

20. Visitors ko motivate kare – Blog post ke first paragraph me aap visitors ko bataye ki is post ko full read karne se unhe kya kya information milegi or wo naya kya sikhenge.

Widget ki help se bounce rate kam kare

To friends aapne sikhe liye ki blog post ko kaise likhe taki visitors aapke full blog post ko read kare , ab chaliye aate hai apne next step par. Visitor aapke blog ke post ko full kar liye ab unko apne dusare blog post read karne ka offer dijiye. Aap widget ki help se aisa kar sakte ho.

21. Related post widget use kare – Apne blog post ke end me related post widget istemal kare taki jab bhi koi visitor aapke blog post ko pura read kare to usay dusare blog post ko read ka option najar aaye.

22. Popular post widget use kare – Apne blog ke sidebar me popular post widget use kare taki aapke blog par aane wale visitors ko pata chal sake ki aapke blog me kon se post ko sabse jyada read kiya jata hai. Issay visitors aapke popular post ko bhi read karenge.

23. Recent comment widget use kare – Visitors ko comment read karne me bahut maja aata hai , aise me agar aap apne blog side bar me recent comment widget lagate ho to visitor aapke comment ko read karenge or us post ko bhi read karna pasand karenge jisme comment kiya gaya hai.

24. Category widget use kare – Apne blog ke sidebar me category widget use kare taki visitors apne pasand ki category se related articles read kar sake.

25. Search box widget use kare – Kabhi kabhi aisa hota hai ki visitors aapke blog par aisa article search karte hai jo unhe mil nahi pata, aise me agar aap apne blog par search box widget lagaoge to visitors aapke blog par easily apne topic ko search kar sakte hai.

Plugins ki help se bounce rate kam kare

26. Fixed widget plugin use kare – Is plugin ko use karne se aap apne sidebar widget ko floating/sticky bana sakte ho, matlab ki blog post scroll hone ke doran sidebar widget fixed rahenge. Aap hamare blog ke sidebar widget ko dekh sakte ho, jab bhi aap hamare blog ko scroll karoge to sidebar widget float karte hai. Sidebar me aise widget ko sticky kare jo blog post se related content ka list batata ho.

27. YARP plugin use kare – Ye ek related post plugin hai jo aapke blog post ke end me related post dikhata hai.

28. In line related post plugin use kare –  Ye plugin aapke blog post ke bich me automatic blog post se related link de deta hai.

29. List category post plugin use kare Ye plugin aapke category post ko ek hi page me dikhata hai, jissay visitors ko aapke category ko navigate karne me koi problem nahi hoti. Aap hamare category page ko navigate karke dekh sakte ho, aapko ek hi page me puri category ki list mil jayegi.

30. 404 redirect plugin use kare – Kabhi kabar broken link ki wajah se visitors aise page par land kar jate hai jo hota hi nahi hai, or unhe 404 error najar aata hai. Agar aisa hota hai to visitor aapke blog par error hone ki wajah se chale jayenge. Isliye apne blog par 404 redirect plugin use kare taki jab bhi koi visitor broken link ke jariye aapke blog par aaye to usay koi error na dikhe or wo directly aapke blog ke home page par land kare.

31. catch plugin use kare – Blog ki speed improve karne ke liye catch plugin use kiya jata hai, agar aapke blog ki loading time bahut jyada hai to koi bhi visitor aapke blog ko puri tarah load hone ka intejar nahi karta, wo directly aapke blog se chala jata hai. Isliye apne blog ki loading speed improve karne ke liye catch plugin jarur use kare.

Blog design ke jariye Bounce rate kam kare

32. First loading theme use kare – Apne blog par aisa theme use kare jo bahut jald load ho jata hai. Agar aapke blog ki theme ki wajah se blog ko load hone me jyada der lagti hai to visitor aapke blog ko read kiye bager hi chale jayenge. Isliye first loding theme use kare.

33. Responsive theme use kare – Kisi bhi blog par maximum visitor mobile ke jariye hi aata hai, or aise me agar aapke blog ka theme responsive nahi hoga to wo mobile screen me thik se display nahi hoga or visitor aapke blog ko thik se navigate nahi kar payenge. Agar visitor aapke blog ko thik se navigate nahi kar sakte to wo aapke blog ke dusare post ko kyun read karenge. Aisa na ho isliye aapko hamesa apne blog par responsive theme use karne chahiye.

34. Clear navigation use kare – Blog par easy or clear navigation use kare taki visitor ko aapke dusare category ko read karne ke liye koi probem na ho.

35. Font size adjust kare – Blog post ke font size ko itna rakhe ki visitor usay easily read kar sakte. Maine bahut se blog aise dekhe hai jo apne blog font size ko itna chota rakhe hai jisay read karne me problem hoti hai, agar small font article ko full read kiya jaye to aankho me dard hone lagega. Isliye apne visitors ko clear font size avail karwaye.

36. Background color adjust kare – Blog ka background color aisa hona chahiye jo aankho ko na chubhe. Blog post read karne ke doran bright background color ki wajah se aankho me dard hone lagta hai, jissay visitors aapke blog post ko pura read nahi karte.

37. Good looking theme use kare – Jyadatar visitor blog ke sirf ek page ko visit karne ke bad hi blog ko chhod ke chale jate hai iski wajah hai blog ka design or look. Agar aapke blog ka design or look impressive hoga to visitors aapke blog ko acche se navigate karenge or blog ke dusare post ko read karne ke chances bhi improve honge.

Blog post interlink se bounce rate kam kare

38. Post me hyper link use kare – Apne blog post me aise keyword par hyperlink use kare jiske bare me aapne already article publish kiya hai.

39. Post ke bich biche me related post ka link add kare – Ek post ko full informative banane ke liye aap apne blog post ke bich bich me usi post se related article ka link add kare, taki visitors usay bhi read kare.

40. Link click karne par new window me open ho – Aap jab bhi koi link apne blog post me add karte ho to us link ki properties me jakar usay open in new window par select kare, aisa karne par visitor jab bhi link ko click karenge to new window me post open hoga, issay ye fayda hoga ki visitors jo previous post read kar rahe the wo close nahi hoga or bad me wahi post visitor pura read kar sakte hai.

41. Comment ke jariye dusare post ki jankari de – Blog par bahut se aise comment aate hai jinke bare me hum already article likh chuke hote hai, aap comment ke jariye us post ka link de do taki visitors aapke comment ke jariye dusare post ko bhi read kare.

42. Link color use kare – Aap jo bhi link text apne blog post me dete ho usay blue ya for koi eye catching color me do taki visitors easily aapke diye gaye link se attract ho jaye or wo aapke dusare blog post ko bhi read kare.

Adsense ad ki help se bounce rate kam kare

43. Matched content ad lagaye – Agar aapka blog matched content ad ke liye approved ho gaya hai to apne blog par isay jaur istemal kare. Matched content ad aapke blog post ke end me ya fir blog ke end me related post widget create karta hai jisme adsense ki bhi kuch ads hoti hai.

44. Vignette ads use na kare – Adsense ka vignette ad tabhi display hota hai jab koi visitor apne mobile browser ke jariye aapke blog par aata hai or aapke blog ke kisi dusare post ko read karne ke liye click karta hai. Aise me ad par click hone ke chance kafi badh jate hai or jiski wajah se visitor aapke blog ko chhod kar chale jate hai. Aap isay as a experiment dekh sakte ho, kuch time ke liye apne blog se vignette ads ko disable karke dekhe.

Ye galti kabhi na kare

To friends aapne sikh liye ki kaise blog bounce rate kam kiya jata hai par iske alawa bhi hue kuch baato ka dhyan rakhna hoga.. jaise

45. Popup use na kare – Agar aap apne blog par popup use karte hai to issay visitor irritate ho jate hai. Khas kar mobile ke jariye blog par aane wale visitor ko popup message dikhaya jaye to wo confuse ho jata hai ki ye hai kya.. Or visitor return back ho jate hai or kisi dusare blog ko visit karne lagte hai. To kabhi bhi apne blog par popup use na kare, agar popup use karne bhi hai to sirf desktop user ke liye isay activate kare.

46. Jyada ad use na kare – Kuch blogger apni Adsense earning improve karne ke liye apne blog par bahut sare Adsense ad laga dete hai.. Isi wajah se blog par aane wale visitor aapke blog post ko acche se read nahi kar pate or ya to wo aapke ad par click karke chale jate hai ya fir wo itne irritate ho jate hai ki aapke blog post ko bina read kiye aapke blog se chale jate hai. Aisa kabhi mar kijiye, aap apne blog par ad placement ka dhyan de or visitor ko bina kisi interruption ke navigation avail karwaye.

47. Comment disable na kare – Bahut se blogger apne blog par comment disable kar dete hai. Aisa wo kyon karte hai ye to wo hi jane , par aisa karne se blog par aane wale visitor jinhe aapse kuch puchna hote ho aapke blog par comment disable hone ki wajah se aapse kuch puch nahi sakte, or isi wajah se maximum visitors aapke blog se dukhi ho jata hor kabhi bhi dubara aapke blog par visit nahi karte.

48. Jyada widget or plugins use na kare – Apne blog par bahut sare functions or accha look dene ke chakkar me kabhi bhi bahut sare plugins or widget use na kare. Agar aap aisa karte ho to aapke blog ka loading time bahut jyada ho jayega or aapke blog ko load hone me jyada samay lagega to visitors aapke blog ke puri tarah load hone ka intejar nahi karenge or wo aapke blog se chale jayenge. Isliye jitna jaruri ho utna hi plugin or widget use kare.

49. Low quality content publish na kare – Hamesa aapko apne blog post ki quality par dhyan dena hai na ki quantity par. Low quality content ko koi bhi visitor read karna pasand nahi karta. Or aapke post ko koi pasand nahi karta to koi kyon aapke dusare post ko read karna chahega.

50. Blog ko rainbow kabhi na banaye – Kuch blogger apne blog par bahut sare color combination me blog post likhte hai, agar aap unke article ko dekhoge to aisa lagega ki aap rainbow dekh rahe ho. Par kya aapne kabhi gor kiya hai ki jitne bhi popular blog hai wo sirf apne blog me font color black hi use karte hai, iska main reason ye hai ki back color me likha gaya article read karne me easy hota hai..

51. Comment link ko approve karne se pehle edit kare – Jab bhi koi aapke blog par comment karte hai to wo apne blog ka link deta hai, agar aap uske blog ke link ko approve kar lenge to bahut chances hai ki koi bhi visitor us link ke jariye aapke blog se dusare blog par chala jaye..

Friends bounce rate kam karne ka main maksad yahi hai ki kaise blog par aane wale visitors ko apne blog par engage kiya jaye. Or hume puri ummid hai ki aap hamara article read karne ke bad aap apne blog ke bounce rate ko kam karne me jarur kamyab honge.

Humne yaha aapko 51 aise tarike bataye hai jisay agar aap follow karte ho to aap apne blog par aane wale visitors ko jyada der tak apne blog par rok ke rakh sakte ho. Agar aapko blogging se related koi bhi doubt hai ya fir aap humse kuch puch chahte hai to hume comment ke jariye jarur bataye. HAPPY BLOGGING

12 Replies to “बाउंस रेट कैसे कम करे 51 लोकप्रिय तरीके 2019”

  1. Ravi sir aapne new blogger ke liye bahut hi achhi knowledge share ki hai.
    Jab bhi mai aapki koi post read karta hu to meri knowledge badhai hai.
    Ravi sir aapne 51 tariko me ek tarika bataya ki post ke kuchh words ko bold banaye……
    Mai jab kisi word ko bold karne ki koshish karta hu to mera pura paragraph bold ho jata hai.
    Plz give some suggestions

    1. Thanks Vinod ji, Maine aapke blog ko visit kiya hai aap apne blog par perfectly bold words use karte ho.. Lekin agar aap blod ki jagah par header tag use karoge to pura paragraph blod ho jayega.. Aapko sayad thodi confusion hai, aap agar text ko select karke bold font use karoge to selected text hi bold honge.

    1. Thanks Bhai, jo aapne hamare blog ko like kiya, aise hi aap hamare sath contact me rahe .. Waise aapka naam kya hai ?

  2. Bahut aachi blog lagi me pahli baar me aapki blog ka fan ho gaya or ab me aapka daily reader ban gaya hoon

  3. बहुत ही अच्छी पोस्ट है रवि जी ,आपने सब कुछ बहुत विस्तार से और साफ़ साफ़ समझाया है.आपका लिखने का अंदाज भी अच्छा लगा.इस पोस्ट से काफी कुछ सीखने को मिला.Low Bounce Rate Blog के लिए बहुत ज़रूरी होती है.मेरे ब्लॉग की Bounce Rate 40 से 55% के बीच रहती है.

    1. धन्यवाद् यादविंदर जी जो आपने हमारे पोस्ट को सराहा. आप ऐसे ही हमारे साथ जुड़े रहे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.