गूगल के बारे में 20 रोचक तथ्य

गूगल एक ऐसा नाम है जिसे सयद दुनिया मे सबसे ज़्यादा लोग जानते है. आज इंटरनेट का मतलब गूगल हो गया है क्योंकि इसके बिना इंटरनेट की कल्पना भी नही की जा सकती . गूगल को खासकर search engine के रूप मे जाना जाता है. लेकिन इसकी कई अन्य सेवाएं है जैसे Gmail, YouTube, Google Map, Blogger, Google Drive आदि. गूगल हमरी जिंदगी का एक अहम हिस्सा बन गयी है.

गूगल के बारे में 20 रोचक तथ्य

गूगल की संस्थापना 4 सितम्बर 1998 मे हुई थी और कुछ सालो मे ये इंटरनेट का विकल्प बन गया. आप कई बार google.com पर सर्च करते होंगे. आज हम acchibaat.com पर आपको गूगल के बारे मे कुछ ऐसी बात बताएँगे जिसे आप जान कर चौक जाएँगे.

1. शुरुवात मे गूगल के फाउंडर को वेब डिज़ाइनिंग की कुछ ज़्यादा जानकारी नही थी. इसलिए गूगल का होम पेज बहुत ही सिंपल सा था. बहुत समय तक तो इस पर सब्मिट बटन भी नही था, return Key को hit करने पर ही सर्च होता था.

2. Google नाम स्पेलिंग मे ग़लती की वजह से पड़ी. Google के संस्थापक इसे Googol नाम रखना चाहते थे लेकिन स्पेलिंग लिखने मे हुई ग़लती के कारण Googol का Google हो गया.

3. हर साल Google पर 2095100000000 सर्च किए जाते है यानी की हर सेकेंड GOOGLE पर 60000 से भी ज़्यादा सर्च किए जाते है.

इसे भी पढ़े : WWE के बारे में रोचक जानकारी हिन्दी में

4. 2010 के बाद से google ने हर सप्ताह अमूमन कम से कम एक कंपनी को खरीदा है.

5. Gmail का आइडिया राजन सेठ ने दिया था जब वो गूगल मे इंटरव्यू देने के लिए गये थे. गूगल के ज़रिए Gmail सर्विस को शुरू करने से पहले पूरी तरह से चेक के लिए इसे 2 सालो तक internally use किया गया था. 1 अप्रैल 2004 के दिन Gmail शुरू किया. सबसे ज़्यादा स्टोरेज, तेज़ी से मेल सेंड करने की केपबिलिटी ने लोगो के बीच इसे फेमस बना दिया. शुरुवात मे Gmail अकाउंट बनाने के लिए इसका invitation होना बहुत ज़रूरी होता था. बाद मे लोकप्रिय होने के बाद ये सबके लिए ओपन कर दिया गया.

6. 1988 मे पहली बार गूगल डूडल को होम page पर दिखाई दिया. इसमे नेवादा मे बर्निंग फेस्टिवल मे भाग ले रहे लोगो के बारे मे था. गूगल मे डूडल की बहुत बड़ी टीम काम करती है, जो अभी तक 1000 डूडल पोस्ट कर चुकी है. डूडल एक खास तरह का लोगो होता है, जो गूगल पर किसी भी खास दिन या किसी बड़े व्यक्ति की याद मे लगाया जाता है. जब दीवाली का फेस्टिवल होता है तो पटाखे वाला डूडल दिखाया जाता है.

7. गूगल के ऑफीस मे 200 बकरिया काम करती है. गूगल अपने ऑफीस के लॉन मे घास की कटाई के लिए मशीन का इस्तेमाल नही करता क्योंकि इससे निकालने वाले धुए और आवाज़ की वजह से ऑफीस मे innovation के काम कर रहे वर्कर्स को परेशानी होती है, इसलिए गूगल ने लॉन की घास की सफाई के लिए बकरियो को लगाया है. इससे घास की ट्रिम्मिंग होती है और बकरियो का पेट भी भर जाता है.

8. 2005 मे गूगल ने Android कंपनी को खरीद लिया. Android की लोकप्रियता का अंदाज़ा इस बात से लगाया जा सकता है कि आज स्मर्टफ़ोने के करीब 80% मार्केट पर इसका कब्जा है, यानी हर 5 मे से 4 स्मर्टफ़ोने android सिस्टम पर चलता है. हर दिन 15 लाख से ज़्यादा लोग नया android डिवाइस खरीद रहे है.

9. गूगल पर किए गये सर्च का बेस्ट रिज़ल्ट दिखाने के लिए 200 से भी ज़्यादा बातो का ध्यान रखा जाता है और सेकेंड के कुछ हिस्से मे इन measures के अनुसार बेस्ट रिज़ल्ट डिसप्ले कर दिए जाते है.

10. इंटरनेट पर हर वेबसाइट ये चाहती है कि विज़िटर ज़्यादा से ज़्यादा वेबसाइट पर समय गुजारे लेकिन इंटरनेट पर सयद गूगले ही एक ऐसी कंपनी है जो अपनी वेबसाइट पर लगने वाले समय को कम करना चाहती है और कम से कम समय मे बेहतर सर्च रिज़ल्ट दिखना चाहती है.

11. गूगल की 90% से अधिक कमाई advertisement से होती है.

12. Google लिखने मे होने वाली स्पेलिंग मिस्टेक से बनने वाले कुछ नाम जैसे googlr.com, gooogle.com आदि नामों का मालिक भी गूगल ही है.

13. अगर आप 466453.com पर जाएँगे तो आप गूगले के होम page पर पहुचेंगे क्योंकि इस domain name को भी गूगल ने ही खरीदा है. दरअसल मोबाइल के bell keypad (जिसमे नंबर और आल्फबेट साथ साथ होते है ) मे गूगले लिखने के लिए 466453 को टाइप करना पड़ता है. अगर आपने ग़लती से आल्फबेट की जगह नंबर को सेलेक्ट किया हुआ है और आप गूगल लिखना चाहते है तो गूगल की जगह&नबस्प;4666666455533 टाइप हो जाएगा. इसी वजह से गूगल ने 466453.com डोमेन को भी खरीद लिया है. note – आज के समय में हर किसी कि पास touch screen mobile phone इसलिए अब 466453.com में पाने से error show होती है.

14. बहुत कम लोग ये जानते है कि गूगल ने अपनी पहली tweet कंप्यूटर की भाषा जिसमे 0 ओर 1 का इस्तेमाल किया जाता है – में किया था, ये tweet था- ‘01100110 01100101 01100101 01101100 01101001 01101110 01100111 00100000 01101100 01110101 01100011 01101011 01111001 00001010.’ इंग्लीश मे इसका मतलब है ” I’am feeling lucky”. गूगल के सर्च बटन के बगल मे आपको यही शब्द लिखे मिलेंगे. इस पर क्लिक करते ही आप तक के सभी गूगले डूडल के बारे मे जानकारी ले सकते है.

15. गूगल हर दिन 5 अरब रुपय से भी ज़्यादा कमाती है, यानी की गूगल हर सेकेंड मे 50000 रुपय कमाती है.

16. पर हफ्ते 20000 से भी ज़्यादा लोग गूगल मे जॉब के लिए अप्लिकेशन देते है.

17. 2006 मे गूगले ने ऑनलाइन वीडियो sharing साइट YouTube खरीद ली. YouTube पर हर मिनट के हिसाब से 60 घंटे तक वीडियो upload किए जाते है. वही दुनिया भर लखो चॅनेल पर आने वाले प्रोग्राम इस पर अपलोड होते है, इस तरह की चीज़ ने दुनिया को ओर पास लाकर खड़ा कर दिया. गूगल की video सर्विस YouTube पर हर महीने टोटल 6 अरब घंटो के video देखे जाते है.

18. गूगल ने अपने street view map के लिए 80 लाख 46 हजार किलोमीटर सड़क के बराबर photography लिए है.

19. गूगल का search engine 100 million gigabit का है. उतना डाटा अपने पास सर्विस करने के लिए एक terabit के एक लाख drive कि जरुरत होगी.

20. Yahoo गूगल को एक मिलियन डॉलर मे खरीद सकती थी, लेकिन नही खरीदा. इसी वजह से Larry Peg और Sarji Brin ने अपनी PHD बिच में छोड़कर गूगल पर काम करना शुरू किया. सोचिये ये deal हो जाती तो Yahoo आज कहा होता.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.