अपने बच्चे को सफल कैसे बनाएं – How to make your child successful Parenting Tips In HINDI

अब आप हमसे directly बात कर सकते हो.. ज्यादा जानकारी के लिए निचे दिए गए contact बटन पर click करे.

अपने बच्चे को सफल कैसे बनाएं – How to make your child successful Parenting Tips In HINDI, bacche ko kamyab kaise banaye, bacche ko successful kaise banaye?

अभी पिछले दिनों एक बच्चे से मुलाकात हुई जो 6 वर्ष की age में ही smoking कर रहा था . मैंने उससे question किया – ” आप cigarette क्यों पीते हो ? पापा भी पीते हैं ? यह धुआं आपको अच्छा लगता है ? ”
बच्चे का उत्तर था – नहीं लेकिन पापा को अच्छा लगता है इसलिए हमें भी अच्छा लगता है .

हालांकि smoking का बच्चे की व्यवहार कुशलता एवं शिष्टता से कोई संबंध नहीं . लेकिन ये तो आपको मानना ही पड़ेगा कि smoking एक बुरी आदत है और ये आदत उसे अपने पिता से मिला है . वैसे भी एक survey के अनुसार बहुत कम पिता ऐसे होते है जो खुद तो smoking करते है लेकिन उनके बच्चे smoking नहीं करते .

ऐसे ही एक दिन Peter V.K से मिलने का अवसर मिला . शाम का समय था . साहब कुछ देर पहले ही office से लौटे थे और अपने बेटे को पिट रहे थे . पता चला साहब को पिने की आदत थी . सुबह और शाम जब भी मन करता बच्चों के सामने ही बोतल खोलकर बैठ जाते . उन्होंने सुबह भी पि और बोतल में कुछ शराब छोड़कर वे अपने office चले गए . बच्चे को अवसर मिला और वह बोतल में बची शराब को पि गया . हमारे विचार में इसमें बच्चे का कोई दोष न था . वह केवल अपने पिता के पद चिन्हों पर चला था और उसने वही किया था जो उसके पिता करते आए थे .

यहाँ हमारा उद्देश्य शराब की बुराइयों पर प्रकाश डालना नहीं है . हम यह भी नहीं कहते कि मदिरापान विष पिने के समान है और health के लिए हानिकारक है . आप शराब पीयें लेकिन इस बुराई को अपने बच्चों से छुपाकर रखें . नहीं तो बच्चे आपका copy करेंगे और फिर वही होगा .

ध्यान रखें अपने बच्चे को आप झुठला नहीं सकते . उसके पास नयी आंख है . उसके पर्दे पर जो चित्र आयेगा वही उसके दिमाग पर अंकित होगा .

आपका बच्चा हर बुराई से दूर रहे इसलिए जरूरी होगा कि आप भी उस बुराई से दूर रहें .

  • खुद को सुधारें .
  • अपनी बुराइयों को देखें और उन्हें दूर करने की कोशिश करें .
  • बच्चों को सुधारने के लिए आपका खुद सुधरना जरूरी है . ध्यान रखें , जैसे बिज होता है पौधा उसके अनुसार ही बनता है और वैसे ही फूल उस पर खिलते है .

इतिहास साक्षी है कि इस दुनिया में जितने भी महान व्यक्ति हुए है उनकी महानता के पीछे मौलिक भूमिका उनके माता-पिता की ही रही है .

इस article को पूरा पढ़ने के लिये Next Page पर जाये.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *