सफल शादी के मानसिक फायदे

क्या वाकई married life बिताने वाले लोग ज्यादा खुश और long life जीते है ? Unmarried लोगो की compare में क्या वे मानसिक रूप से अधिक satisfy और happy होते है ? जी हाँ , यह काफी हद तक सच है . हाल ही में हुए एक survey के अनुसार , शादी व खुशी के बीच एक positive relationship होता है , जिससे married लोग unmarried की compare में अधिक खुश भी रहते है . आइये , जाने कामयाब शादी के मानसिक फायदे के बारे में.

कामयाब शादी के कुछ दिलचस्प फायदे

सफल शादी एक सुरक्षा कवच की तरह होता है , जो पति-पत्नी दोनों को एक निश्चिंत जीवन जीने का assurance देता है .

ऐसे couple बहुत शांत और बेफिक्र ढंग से ना सिर्फ family को सुखमय बनाने में कामयाब रहते है , बल्कि अपने carrier में भी निरंतर आगे बढ़ते रहते है .

सफल शादी में sharing करने से पति-पत्नी दोनों जहा एक तरफ अपनी सारी problems से बाहर निकल आते है , वही financially भी बहुत secure feel करते है .

सुख-दूख में कोई उनके साथ है , यह feeling इतना strong होता है कि वे किसी भी तरह की challenges का सामना करने को ready रहते है .

यदि उनके साथ कुछ गलत या बुरा हो भी गया , तो उनका partner उन्हें support करेगा और उस situation से बाहर आने में help करेगा , यह बात उन्हें बड़े से बड़े decision लने में भी help करती है .

इसे भी पढ़े : ससुराल में सबके साथ मिल जुल कर कैसे रहे ?

Partner का साथ पति-पत्नी दोनों को एक confident देता है , जिसके बल पर वे कठिन से कठिन situations का सामना करने के लिए ready रहते है .

सफल शादी पति-पत्नी को हमेशा खुशी के feeling से भरे रहती है , जिससे उन्हें positive emotions का feel होता है और अभाव या problem होने के बावजूद वे निरास नहीं होते है .

उन्हें इस बात का डर नहीं सताता कि यदि कल किसी वजह से वे problem से घिर जाते है , तो उनका future खराब हो सकता है .

Life partner किसी प्रकार की दुविधा होने या decision लेने की situation में एक important role निभाते है . उस पर आख बंद करके विश्वास किया जा सकता है कि वह उसका बुरा नहीं करेगा , इसलिए उसके decision से उलझन को सुलझाने में help मिलती है .

सफल शादी से stress level कम होता है .

Psychological Benefits of Successful Marriage, in HINDI

आकेला व्यक्ति जब घंटो किसी चीज में उलझा रहता है , तो उसका depression का शिकार होना natural है , पर सफल विवाहित जोड़े के साथ ऐसा नहीं होता है .

उसकी खुशी ना सिर्फ उसके चेहरे , हाव-भाव , बातचीत करने के ढंग आदि से झलकती है , बल्कि वह उसकी performance में भी दिखाई देता है .

जब stress ना हो , तो मन शांत रहता है और काम करना बोझ नहीं लगता . फिर चाहे वह घर का काम हो या office का , व्यक्ति मन लगाकर करता है .

इसे भी पढ़े : कैसे बने perfect housewife ?

काम से थकने पर partner से कुछ पल बात कर वह fresh हो जाता है .

घर का tension free environment दुखी व चिडचिडा होने से बचाता है .

जहाँ पति-पत्नी दोनों working होते है , वहां एक partner के बीमार होने या job छुट जाने पर भी tension नहीं होता . Partner का emotional Support भी लगातार मिलने से उसका मनोबल नहीं टूटता . जो partner काम कर रहा है , उसकी salary से घर चलता रहता है .

एक survey के अनुसार , जिन पुरुषों का married life successful होता है , वे अपने workplace में भी successfully होते है . वे ना तो ज्यादा छुट्टिय लेते है ना ही office देर से पहुंचते है .

सफल शादीसुदा couples की mental health perfect होती है . Stress-free lifestyle आपको physically ही नहीं , mentally भी fit रखता है .

घर में अगर tension नहीं रहता , तो बाहर जाकर कुछ करने में झुंझलाहट महसूस नहीं होती है . तब पति-पत्नी दोनों की talent खुलकर सबके सामने आती है .

सफल शादीशुदा जीवन बिताने वाली पत्नियों को होनेवाले कुछ खास फायदे

जिन महिलाओं का married life कामयाब रहता है , वे खुले मान और सोच के साथ काम कर पाती हैं , जिससे तरक्की करने के अवसर निरंतर उन्हें मिलते रहते है .

पति का support मिलने व उनके काम की importance व demand को समझने के कारण उन्हें रात को देर से घर पहुचने की tension नहीं होती , जिससे वे अपना 100% काम को दे पाती है .

सफल शादीशुदा जीवन का सबसे बड़ा मानसिक फायदा यह है कि इस कारण पत्नी का energy level हमेसा high रहता है .

जीवन के प्रति positive attitude होने के कारण उन पर pressure कम होता है .

कोई घुटन ना होने के कारण वह बेहतर ढंग से समाज में अपना contribution दे पाती है .

यदि पति cooperative हो , तो पत्नी के social relationship बेहतर होते है और वे अपनी capability का प्रयोग पूरी तरह से कर पाती है .

यदि partner समझदार हो , यो अधिक responsibility आसानी से पुरे किए जा सकते है . तब पत्नी घर और office में balance बना पाती है , जिससे उसे mental satisfaction होती है कि वह अपने responsibility को ठीक से निभाने में capable है .

सुखी विवाहित महिला अपने behavior और smile से सबका दिल जित लेती है और प्रसंशा का पात्र बनती है .

सफल married couples को दुसरो को help व respect देने में खुशी मिलती है पर इस तरह वे society में अपनी एक खाश identity व position बनाने में कामयाब होते है .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.