सुबह जल्दी कैसे उठे ? सुबह जल्दी उठने की आदत कैसे डाले ?

Posted on

अपनी life के starting के 25 साल देर रात तक जाग कर बिताने के बाद finally मैं एक सुबह जल्दी उठने वाला बन गया हूँ. ऐसा कर पाना easy नहीं था मैंने पहले भी बहुत बार कोशिश की थी पर fail हुआ मगर जब मैंने यह ठान लिया कि अब बस बहुत हो चूका अब मुझे सुबह जल्दी जागने वाला बनना है तो मैंने यह कर दिखाया और अब मैं हर रोज़ सुबह 5 से 5:30 बजे के बीच कभी भी उठ जाता हूँ और वह भी बिना किसी alarm की help के.

खास बात ये है कि अगर मैं कभी रात को देर से भी सोता हूँ तब भी मेरी आँख खुद-ब-खुद सुबह अपने time पर खुल जाती है. और यकीन करें यह मेरे लिए दुनिया की सबसे अच्छी feeling है क्योंकि मैं हमेशा से सुबह उठना चाहता था. इस article में हम बात करेंगे कैसे मैंने अपने आपको सुबह उठने वाला बनाया और कैसे आप इन tips को follow करके सुबह जल्दी उठने वाले बन सकते हैं. तो आइये जानते हैं कि कैसे अपने आपको सुबह जल्दी उठने के लिए तैयार करें. subah jaldi kaise uthe ? subah jaldi uthane ki aadat kaise dale ?

सुबह जल्दी कैसे उठे ? सुबह जल्दी उठने की आदत कैसे डाले ?

1. सुबह जल्दी उठने के लिए जल्दी सोना चाहिए

यह सबसे पहली और important बात है. हमारे body को अच्छे से काम करने के लिए कम से कम 6 से 8 घंटे की नींद की बहुत जरूरत होती हैं. मैं 6 से 8 घंटे इसलिए कह रहा हूँ क्योंकि आपकी sleep quality पर depend करता है कि आपकी body कितने घंटे की नींद पर fresh feel करती है. अगर बिना किसी रुकावट के और दिन disturbance के नींद लें तो 6 घंटे की नींद काफी है. मगर पहले आप 8 घंटे का ही aim लेकर चलें. यह अलग बात है कि कभी-कभी सोने में देर हो जाएं, मगर routing यही रखें कि आपको जल्दी बिस्तर पर जाना है. अगर आपको सुबह 6 बजे उठने का aim बनाया है तो कोशिश करें कि  10 से 10:30 तक बिस्तर पर आ जायें.

2. जल्दी सोने का माहौल बनाएं

Famous Blogger Steve Pavilna का मानना है कि हमें तभी सोना चाहिए जब नींद आये और सुबह उठने की कोशिश करनी चाहिए, पहला दिन बेकार जायेगा मगर धीरे-धीरे आदत हो जाएगी. मगर मैं अपना experience share करना चाहता हूँ. जब हम यह सोचते हैं कि हम तभी सोयेंगे जब नींद आएगी और रात के 12, 1 बज जाते हैं तो सुबह उठना एक struggle बन जाता है. इससे अच्छा है कि आप अपने आप को सोने के लिए पहले से तैयार कर लें. अगला पूरा दिन खराब करने से अच्छा कि रात के कुछ घंटे की खराब कर लें थोड़ा पहले बिस्तर पर जाकर.

3. अपना mobile बिस्तर से दूर रखें

जैसे की मैंने आपको बताया की सोने का माहौल बनाने के लिए बिस्तर पर पहले चले जाएं भले ही आपको जल्दी नींद न आये मगर mobile का इस्तेमाल न करें. रात को बिस्तर में लेट कर mobile check करना अच्छा तो बहुत लगता है पर यही main reason होता है नींद न आने का. Mobile को दूर रख कर आप अपने mind को थोड़ा free रख सकेंगे ताकि वह भी सोने के mood में आ जायें. Mobile से निकली radiation body को थकाती हैं, light OFF करके बिस्तर पर लेटने से body relax हो जाती है और sleeping mode में आ जाती है.

4. सुबह उठने की वजह ढूंढे

सुबह उठने के लिए motivation की बहुत ज़रूरी है, इसलिए कोई न कोई वजह जरूर रखें कि आपको सुबह उठकर वह करने है. जैसे जो काम आप देर रात करते हैं, अपने आपको promise करें कि सुबह उठकर वही पूरा करना है. अगर आप student हैं तो सुबह उठकर पढ़ने में आपको ही फायदा है क्योंकि उस time mind fresh रहता है. अगर आप office जाने वाले हैं तो आप सुबह का time अपने चीज सहेजने में use कर सकते हैं. Exercise या yoga start कर सकते हैं जिससे आपको सुबह उठने की प्रेरणा मिले. हमारा aim यह है कि हम सुबह उठा कर यह न सोचे कि कोई काम ही नहीं है चलो फिर से सो जाते हैं.

5. धीर-धीर सुबह उठने का time घटायें

अब पहले दिन ही तो जंग नहीं जीती जाती. English की कहावत भी है – Rome was not built in a day. पहले दिन ही आप सुबह 6 या 5 बजे उठने वाले नहीं बन जायेंगे. इसलिए अपने सुबह उठने का time धीरे-धीरे घटाएं. अभी अगर आप 8 बजे उठते हैं तो कल 7:30 का alarm लगाएं. फिर 7:00 का, फिर 6:30 का. इससे आपको पता भी नहीं चलेगा कि कुछ दिन में ही आप 6 बजे का alarm लगाने लगेंगे और फिर बिना alarm के ही उठने लगेंगे.

6. कम समय के लिए अपना goal set करें

इंसान का mind बहुत ही कमाल का है, अगर कोई life changing event करना हो तो हम डर जाते हैं क्योंकि यह बहुत मुश्किल लगता है. मगर हम अगर कहें कि अगले 20 दिन या 30 दिन के लिए हम सुबह उठेंगे तब हमारा mind कहता है कि चलो कोई नहीं कुछ ही दिनों की बात है. कर लेते हैं. और फिर 30 दिन बाद आपके body को सुबह जल्दी उठने की आदत बन जाएगी तो mind भी body का साथ देगा और आपको सुबह उठने में प्रेरती करेगा.

7. अपने friends और relatives को बताएं

आप अपने friends और relatives के साथ share करें कि आप सुबह उठने की आदत डाल रहे हैं. कोई ऐसा होना चाहिए जो आप से आपकी progress पूछता रहे. अगर आप अपनी progress बारे में बात करेंगे तो आप खुद को motivate करेंगे अच्छा करने की और अपने goal पर टिके रहेंगे. सब जानते हैं कि मैं ऐसा कर रहा हूँ तो मुझे fail नहीं होना है, अपने आपको साबित करके दिखाना है कि जो मैं कहता हूँ वह कर सकता हूँ.

बस इन्ही बातों का ध्यान रखें और यकीन करें खुद पर कि आप ऐसा कर सकते हैं कोई मुश्किल नहीं है बस थोड़ा patience चाहिए. Starting के कुछ दिन भले ही आपको अच्छे न लगें, आपको वापिस पुराने जैसी routing पर आने का दिल भी करेंगे, मगर आपको बस किसी न किसी तरह से अपना initial goal (20 दिन या 30 दिन) को पूरा करना है.

Gravatar Image
मैं रवि साव acchibaat.com का फाउंडर हूँ. मैं यहाँ हर रोज आपके साथ अपने ज्ञान को साझा करता हूँ. धन्यवाद आप सभी का जिन्होंने acchibaat.com को इतना प्यार दिया. आशा करता हूँ कि यूँ ही आपका प्यार हमेशा बना रहे. अगर आपको हमारी ये आर्टिकल पसंद आई तो कमेंट करना न भूलें, आपका साथ ही हमारे प्रेरणा का श्रोत है.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.