सुहागरात में दुल्हन को क्या करना चाहिए ?

चाहे महिला हो या पुरुष, शादी इन दोनो के लिए एक नयी जिंदगी की शुरुवात होती है. सुहागरात मे थोड़ी उलझन होती है और थोड़ी शर्म भी होती है. महिलाएं भी इसे खास बनाने के लिए कई तरीके अपनाती है. लेकिन इस रात दोनो एक-दूसरे का भरोसा हासिल कीजिए. इस रात खुश रहिए, खुद पहल करने मे कोई शर्म मत कीजिए और अपने पति का दिल जीत लीजिए.

सुहागरात को खास तरह से celebrate कीजिए. सारे उम्र इस रात की मीठी एहसास के साथ एक-दूसरे का साथ निभाने का वादा कीजिए. याद रखिए सुहागरात मे कोई ऐसी नादानी ना करे जिसकी वजह से जीवनभर आपके शादीशुदा जिंदगी मे एक दुख बना रहे. लेकिन अब भी आपने मन मे किसी सवाल को लेकर उलझन है तो इन टिप्स को आज़माए.

1. सजना है मुझे सजना के लिए

शादी और सुहागरात महिला के लिए सबसे खास मौका होता है. इस दिन महिलाए खूबसूरत दिखने के लिए मेकअप करती है. दुल्हन को खुश दिखना चाहिए और मेकअप ऐसा होना चाहिए कि दूल्हे मिया देखे तो बस देखते रह जाए. ऐसा माना जाता है कि जो दुल्हन पिया का दिल जीत लेती है, जिंदगीभर दूल्हा उसका गुलाम बनके रहते है. इसलिए इस मौके को गवाए नही.

इसे भी पढ़े : सास बहू का रिश्ता कैसा होना चाहिए ?

2. भरोसा और commitment जताए

अपने शादीशुदा जिंदगी को खुशहाल बनाने के लिए इस मौके के प्रति अपना भरोसा दिखाए. समर्पण पूर्ण प्रेम के साथ उन्हे ये जताए कि वो जैसे भी है उन्हे वो मन से accept करती है और हमेशा उनके प्रति भरोसा करेगी. ज़्यादा दिखावे की कोशिश मत कीजिए.

3. पुरानी बातें ना बताए

बिता हुआ कल जैसा भी रहा हो भविष्य से उनकी तुलना मत कीजिए. अगर शादी से पहले आपके संबंध रह चुका हो तो इसका ज़िक्र सुहागरात मे बिल्कुल ना करे. आप एक नये जीवन की शुरुवात कर रही है. इसलिए इसे अपने मान मे ही रखे और पुराने संबंध को भूल जाए क्योंकि आदमी कितना भी खुले विचारो वाला क्यू ना हो इस बात को accept करना उसके लिए आसान नही होगा.

4. कोई शर्त ना रखे

ये आपकी पहली रात है, इस दिन ज़िद बिल्कुल ना करे और ना ही अपनी शर्त पर लड़ने की कोशिश करे. प्यार शर्तो पर नही होना चाहिए. इससे प्यार की उमर कम हो जाती है, इसलिए सुहागरात के मौके पर अपने पति के सामने कोई भी शर्त नही रखे. उनके प्यार को अपने प्यार से समेट ले.

जरुर पढ़े : शादी करने कि सही उम्र क्या है ?

5. मयके की तारीफ ना करे

इस मौके पर मर्यादा का पालन करे. ये भी ध्यान रखे कि उनके सामने अपने मयके की तारीफ ना करे. आपकी शादी जिस माहौल मे हुई है उसमे ही खुश रहने की कोशिश कीजिए.

6. Confident रहे

हालांकि शादी की पहली रात नर्वस होना आम बात है. लेकिन अगर आप confident मे रहेंगी तो ज़्यादा अच्छा रहेगा. Confident से भरपूर होकर पति से सारी बाते करे. फ्यूचर प्लॅनिंग की बात करते समय confident दिखाने से ऐसा लगेगा की आप उस मामले को लेकर गंभीर है.

5 Replies to “सुहागरात में दुल्हन को क्या करना चाहिए ?”

  1. Mere shadi hue 2 saal hogaye or mere husband aj tak mujhe propose nai kare woh kehte hai pyar hai dkhane nahi ata lekin mujhe lagta ke woh mujhe pyaar nahi karte koi idiea batao naa

    1. Ye koi badi problem nahi hai, or iski wajah se ye kahna galat hoga ki aapke pati aapse pyar nahi karte. Pyar me expectation ek bahut badi problem hai or yahi problem aapke sath bhi hai, expectation chodo or apne pati se love ki expectation ki bajaye aap khud unse itna pyar karo ki wo khud romantic ho jaye.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.