व्यवहार क्या है ? – What is behavior in Hindi

अब आप हमसे directly बात कर सकते हो.. ज्यादा जानकारी के लिए निचे दिए गए contact बटन पर click करे.

व्यवहार क्या है ? – What is behavior in Hindi
व्यवहार हमारे जीवन का मुख्य उद्देश्य (main aim) है . जिसका व्यवहार अच्छा नहीं उसका परमार्थ ( spiritual knowledge ) भी ठीक नहीं कहा जाता है . हाँ , यह तो है कि जिसका परमार्थ सही है उसका व्यवहार भी अच्छा होगा क्योकि यह दोनों कम मन के ही द्वारा होता है . अशुद्ध मन न व्यवहार संभाल सकता है न परमार्थ . जब तक मन में रजोगुणी और तपोगुनी धारें उठती रहेंगी व्यवहार सत्य नहीं हो सकता .

आशावादी बन कर दूसरों का मार्गदर्शन करें – Guide others by becoming optimistic in Hindi

इसलिए प्रथम मन को स्वच्छ बनाओ . मन बनता है सत्संग या ईश्वर भजन से . मन को ईश्वर के चरणों की ओर लगाने से उसमे सत की अधिकता होने लगती है क्योंकि भगवान का स्वरुप सत्य है . जब हम नित्य सत्य की आराधना करेंगे तो सत्य का दर्शन होगा .

जब तक हम सत्य के समीप नहीं पहुंचेंगे हमारी बुद्धि सत्य-असत्य का निर्णय भी नहीं कर सकती और बिना निर्णय किये हम अपने व्यवहार को भी शुद्ध नहीं कर सकते .

व्यवहार क्या है ?

हम संसार में जो कुछ करते है व्यवहार है . तुम जैसा करोगे वही सामने आयेगा . यह संसार एक शीशा है , जैसा मुख बनाओगे वैसा ही दिखेगा . हम अपने साथ ओरों का अच्छा व्यवहार चाहते है , लेकिन इससे पहले अपना ओरों के साथ कैसा व्यवहार है यह जरुर देख लें .

अगर आपका व्यवहार ओरों के साथ अच्छा है तो निश्चय ही लोग आपको दिल से चाहेंगे और अगर आपका व्यवहार दिखावटी है तो बस ओरों का भी दिखावटी व्यवहार पाओगे , जो थोथा और बेकम का होगा . दैनिक व्यवहार में भी देखने में आता है कि जो मुझे जैसा देता है उससे अधिक देने की मेरी इच्छा उसके लिए होती है .

इस विचार को तो बिलकुल भूल जाओ कि मैं बनावती व्यवहार से दुसरे को अपने वश में कर लूँ . हर एक का मन एक ऐसा यंत्र है कि तत्काल सब बतला देता है . मनुष्य समझे तो कोई बात नहीं , पक्षी और जानवर भी सब कुछ जानते है .

इस article को पूरा पढ़ने के लिये Next Page पर जाये >>

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *