हिन्दी ब्लॉग और Adsense Earning से संबंधित कुछ जरुरी बातें

Country wise आप अपने किसी भी भाषा में लेख लिख सकते हो। जैसे पाकिस्तान मे उर्दू भाषा, जापान में जापानी, अमेरिका में इंग्लिश, भारत में हिन्दी आदि। वैसे अगर आपका ब्लॉग भारत से belong करता है और आप भारत के लोगों के लिए लिखते हो तो आपका ब्लॉग हिन्दी मे ही होना चाहिए, फिर भी आप अपना ब्लॉग इंग्लिश में बना सकते हो।

अगर आपकी इंग्लिश ठीक नहीं है तो हिन्दी भाषा ही सबसे अच्छा विकल्प है आपके लिए।

Adsense कि earning ब्लॉग language के ऊपर depend करती है, अगर आपका ब्लॉग हिन्दी भाषा में है तो आपके ज्यादातर ब्लॉग visitor भारत से ही होंगे लगभग 90% और बाकी के 10% visitor अमेरिका और UK से होंगे।

लेकिन अगर आप इंग्लिश भाषा में ब्लॉग बनाते हो तो आपके 60% visitor भारत से होंगे और बाकी के अमेरिका, UK और other country।

जैसा की हम जानते है कि हिन्दी भाषा को ज्यादातर भारत में ही पढ़ा और बोला जाता है इसलिए अगर आपका ब्लॉग हिन्दी में है तो आपके ब्लॉग पर Indian visitor की संख्या बहुत ज़्यादा होगी।

ब्लॉग और Adsense earning से संबंधित कुछ जरुरी बातें

ब्लॉग और Adsense earning से संबंधित कुछ जरुरी बातें

1. हिन्दी ब्लॉग और Adsense का earning इतना कम क्यूँ है?

जैसा कि हमने पहले कहा कि हिन्दी ब्लॉग main focus India से करती है, इसलिए इसके ज्यादातर visitor India से होंगे। अगर आपके ब्लॉग में Adsense का विज्ञापन है तो आपकी earning बहुत कम होगी। इसकी वजह है कि भारत के लोग ज़्यादा ऑनलाइन मार्केटिंग या खरीदारी पर भरोसा नही करते। भारत में कोई अगर ऑनलाइन खरीदारी करता है तो उसका एक particular साइट होगा, मतलब कि वो एक ही वेबसाइट से खारोदारी करते है।

अगर आपका ब्लॉग relationship या फिर dating niche से belong करता है तो आपके Adsense का CPC बहुत ही कम होगा (0.01-0.04), क्योंकि ऐसे ब्लॉग पर गूगल Adsense ad बहुत कम CPC के होते है।

अगर आपका ब्लॉग technology या health niche से belong करता है तो आपके Adsense का CPC बहुत अच्छा तो नही लेकिन अच्छा रहेगा (0.07-0.3)।

2. क्या हिन्दी ब्लॉग से Adsense earning नही की जा सकती?

दोस्तों अगर आपने कोई हिन्दी ब्लॉग बनाया है तो ऐसे niche पर focus करे जो आपके Adsense earning के लिए फायदेमंद हो, जैसे – health, business, make money, blogging, technology, electronics आदि। ऐसी विषय पर लिखने से आपको Adsense CPC अच्छी मिलते है।

अगर आपने ऐसे विषय पर ब्लॉग बनाया है जो कि profitable niche से belong नही करता जैसे – relationship, dating, शायरी, sms, सुविचार, love, तो आपके Adsense CPC बहुत ही कम होंगे। अगर ऐसे niche में ब्लॉग बना कर आप Adsense earning को भी बढ़ाना चाहते हो तो आपको अपने ब्लॉग की traffic को बढ़ानी होगी।

3. Micro niche ब्लॉग की earning कैसे बढ़ाये?

अगर आपका ब्लॉग Micro niche से belong करता है, मतलब आपके ब्लॉग का main विषय relationship, dating, शायरी, sms, सुविचार, love आदि है तो आपके ब्लॉग की Adsense earning बहुत ही कम होगी। अगर आप अपने Micro niche ब्लॉग की Adsense earning बढ़ाना चाहते हो तो आपको अपने ब्लॉग के विज़िटर या traffic imporve करने होगा।

Adsense के ज़रिए अच्छी earning करना चाहते है तो ये 5 ग़लतियाँ कभी ना करे।

Adsense की CPC 0.01 है इसे कैसे improve करे?

Adsense का CPC बहुत कम होने की वजह से overall earning पर इसका असर पड़ता है। कुछ उपाय है जिसकी मदद से आप अपने Adsense की CPC improve कर सकते हो।

1. Quality आर्टिकल लिखे

ये मुख्य कारण है की लोग अपने ब्लॉग पर सिर्फ़ content लिखने और publish करने में लगे रहते है पर उन्हे ये नही पता कि अगर उनके आर्टिकल में quality नही होगी तो उनके ब्लॉग पर आने वाले विज़िटर की संख्या दिन-बा-दिन कम होती जाएगी।

1 quality content = 1000 word content, अगर आपने 10 पोस्ट publish किए है और उसमे से एक आर्टिकल का daily view 500 होता है तो वो एक आर्टिकल बाकी के 9 आर्टिकल से बेहतर है।

2. कीवर्ड पर ध्यान दे

कीवर्ड पर फोकस भी करना ज़रूरी है, कोई भी आर्टिकल publish करने से पहले उसे गूगल पर सर्च कर के देख ले, उदाहरण के लिए – अगर मैं ‘ the human right in Hindi’ विषय पर आर्टिकल लिखता हूं तो मैं अपने आर्टिकल को publish करने से पहले मैं इसे गूगल पर सर्च करके देखूँगा।

जब मैं google पर ‘the human right in hindi‘ type करता हूँ तो मुझे बहुत से कीवर्ड नजर आते है और मैं इन्ही कीवर्ड के जरिए अपने आर्टिकल का title decide करूँगा।

3. Spelling mistake से बचे

हमेशा अपने आर्टिकल को publish करने से पहले उसे एक बार जरुर पढ़ लें ताकि कोई spelling mistake ना हो। अगर आपके ब्लॉग में बहुत spelling mistake होंगे तो आपके visitor दोबारा आपके ब्लॉग पर visit नही करेंगे। और आपकी Adsense CPC भी बहुत कम होगी।

4. 3 से ज्यादा ad अपने ब्लॉग पर ना लगाये

ज्यादा Adsense ad का मतलब है low cpc। अगर मैं अपने ब्लॉग पर 4 ad लगता हूँ –

Ads 1 – 0.05 Cpc

Ads 2 – 0.04  Cpc

Ads 3 – 0.02 Cpc

Ads 4 – 0.01 Cpc

तो मेरे Adsense कि overall cpc (0.05+0.04+0.02+0.01)/4= 0.03 होगी। इसलिए अपने Adsense cpc improve करने के लिए maximum 3 adsense ads ही अपने ब्लॉग पर लगाये।

5. अपने ब्लॉग को visitor friendly बनाये

अगर आपका ब्लॉग user friendly नही होगा तो आपके ब्लॉग पर visitor ज्यादा time spend नही कर पाएँगे। जिसकी वजह से आपके ब्लॉग का Bounce rate बहुत बढ़ जायेगा और आपके Adsense cpc पर भी इसका असर पड़ेगा।

  • पोस्ट के आखिर में related पोस्ट डाले।
  • पोस्ट के आखिर में कमेंट बॉक्स बॉक्स की सुविधा दे।
  • Easy navigation menu available करवाए।

तो दोस्तों इन सभी उपाय को ध्यान में रहते हुए अपने Adsense के जरिए अच्छी earning कर सकते हो। Happy Blogging

एक टिप्पणी भेजें