Blogging करना वो भी constantly एक बहुत ही challenging task है। जब मैंने अपनी blogging की शुरुवात की थी तब मुझे ये तो पता था कि एक दिन ये दुनिया में अपना नाम जरुर कमाएगी पर ये पता नहीं था कि सिर्फ article लिखना ही काफी नहीं है उसे लोगों तक पहुँचाना भी बहुत जरूरी होता है, जो की search engine जैसे google, bing, yahoo करते हैं।

काफी लोग दूसरे successful blogger से inspire होकर अपना एक blog बना लेते हैं पर उन्हें ये नहीं पता कि blogging में success पाना जितना आसान है उतना ही impossible भी है। 

कुछ लोगों के लिए blogging करना passion होता है तो कुछ लोग इसे अपने आय का जरिया बना चुके है। एक बार एक visitor ने मुझसे ये पूछा कि “are you a professional blogger?” ये सवाल सुनकर मेरे शरीर से मानो जान ही निकल गई हो, मुझे तब एहसास हुआ कि मैं करोड़ो की भीड़ में कितना अकेला हूँ। 

ये सवाल जब मैंने आपने आप से पूछा तो मैं अपने आपको बहुत लाचार और अकेला पाया। क्योंकि आज भी मैं professional blogger नहीं हूं। Professional blogger वही होते हैं जो सिर्फ और सिर्फ blogging में अपना career बनाते है।

मैंने blogging तो शुरू की पर इसमें अभी तक अपना career नहीं बना सका, और यही मुझे motivate करती है कि एक न एक दिन acchibaat.com (ABC) दुनिया के top blog में count होगा। 

Blogging में Success पाने का Best तरीका

Blogging में Success पाने का Best तरीका

दोस्तों blogging में success होने के लिए मैंने बहुत सी गलतिय की, बहुत से suggestion भी मिले लेकिन सभी मेरे लिए बेकार साबित हुए। आज मैं आपके साथ कुछ ऐसे information share करना चाहता हूँ जो आपको आपके blogging career में success पाने में मदद करेगी और वो गलती आप नहीं दोहरा सको जिसे मैंने face किया था।

अगर आपको लिखने में problem होती है तो blogging आपके लिए नहीं है

कुछ लोग दूसरे successful blogger से inspire होकर अपना एक blog बना लेते हैं पर blog बनने के बाद उन्हें ये नहीं पता होता कि क्या लिखना है। ऐसे लोग सिर्फ दूसरे website से copy करके अपने blog पर paste करते है या फिर दूसरों के contain को modify करके अपने blog पर लिखते हैं।

दोस्तों दुनिया बहुत बड़ी है, इसमें ज्ञान का सागर है। अगर आप इस ज्ञान के सागर में डुबकी लगाना चाहते हो तो आपको तैरना आना चाहिए, कहने का मतलब ये है कि blogging करना है तो आपको लिखना तो पड़ेगा ही।

Blogging की शुरुवात Blogspot (blogger.com) से करे

हमेशा ये दुविधा रहती है कि अगर blogging करना है तो कौन सा platform सबसे best होगा। जब मैंने acchibaat.com (ABC) की शुरुवात की थी तब मैंने google के blogger.com से ही अपना blog बनाया था और ये best platform है blogging start करने के लिए। आप blogger.com में ही अपना blog बनाए। इससे आपको पता चल जाएगा कि आप blogging के प्रति कितने passionate हो।

अपने blog का नाम ऐसा रखे 

आज जिस topic में blog बनना चाहते है उसी के हिसाब से अपने domain name choose करे। जैसे acchibaat.com अच्छी बातों को दर्शाता है और यहाँ आपको अच्छी-अच्छी बातों का संग्रह मिलेगा। वैसे ही आप अपने blog के नाम का चयन करे।

अगर आप fashion से related blog बनाना चाहते हैं तो आपका blog का नाम कुछ इस तरह होना चाहिए – lifestyle4u.blogspot.com।

जैसे किसी के घर के बाहर उसके मालिक का name plate होता है ताकि हमे पता चल सके कि घर के अंदर कौन-कौन है, वैसे ही आपके blog का नाम ये दर्शाता है कि आपके blog के अंदर क्या-क्या contain है।

हमेशा motivate रहे 

Blogging करना बड़ा ही सब्र वाला काम है। आपको सब्र करना हो होगा और सब्र करने के लिए आपको motivate भी रहना पड़ेगा। अब बात आती है कि blogging के प्रति खुद को motivate कैसे करे? आपने अपना blog बना लिया, उसमे अच्छे-अच्छे article भी लिखना शुरू कर दिया पर daily visitor बहुत कम है तो थोड़ा demotivate होना जायज है। ऐसे में खुद को motivate करने के लिए एक target set करे। 

यहाँ मैं अपने experience आपके साथ share कर रहा हूँ – जब मैंने acchibaat.com की शुरुवात की थी तब मैं daily 4 article लिखता था, एक महीने के बाद 100 article लिख चुका था, पर daily visitor न के बराबर थे। तब मैं भी थोड़ा demotivate हो गया था। उस समय मैंने एक target बनाया कि मुझे 200 article लिखना है। जब मैंने अपना ये target achieve किया तब तक मेरे blog में daily visitor count बढ़ चुके थे। इसकी वजह से मैं ओर भी motivate हो गया।

जब कोई व्यक्ति मेरे blog पर comment करता है तो मानो ऐसा लगता है कि  मैंने आसमान छु लिया हो, मैं छोटी-छोटी improvement से खुश होता गया। आज भी मैं एक target set करता हूँ, और वो target achieve होने के बाद दूसरा target set कर देता हूँ। तो दोस्तों blogging में motivate रहने के लिए हमेशा एक छोटा सा target set करे।

सबसे बड़ी वजह demotivate होने का – ADSENSE

Blogging adsense के बिना अधूरा है। जब आप adsense के लिए apply करते हो और adsense आपका application reject कर देता है तो बहुत ही बुरा लगता है। कई लोग तो इस वजह से blogging करना ही छोड़ देते हैं।

जब मैंने पहली बार adsense के लिए apply किया था तब मेरा application reject हो गया था, उस समय मैं थोड़ा demotivate हुआ था पर अपने जिद के कारण मैंने blogging करना नहीं छोड़ा। एक जिद जो मुझे आज इस मुकाम पर ला कर खड़ा कि है।

अगर मैं उस समय हार मान जाता तो आज इस मुकाम पर नहीं होता, मैंने एक सपना देखा था कि कुछ करना है, कुछ पाना है। और मेरा ये सपना कुछ हद तक साकार भी हुआ। मैं आज भी motivate हूँ और यही मेरी प्रेरणा का श्रोत है।

इसलिए दोस्तों अगर आपका adsense application भी reject हो गया है तो please इस वजह से निराश न हो, हर अंधेरे के बाद एक उगता सवेरा जरुर आता है। कभी अपने आपको demotivate न करे।

ऐसी article लिखे जो लोगो पसंद करे।

हमेशा कोशिश करें कि जब भी आप कोई article लिखे उसे लोगों के नजरिये से देखें, क्या इस article को लोग पसंद करेंगे? क्या ये लोगों के काम का है?

Maximum blogger अपने blog पर ऐसे article लिखते है जो किसी काम के नहीं होते। आपके article में quality होनी चाहिए। जब मैंने article लिखा शुरू किया तो मेरे articles को कोई पसंद नहीं कर रहा था, ये बात तब मुझे पता चली जब मेरे एक friend को मैंने अपना blog दिखाया, उसने कहा – “यार तेरा blog तो मस्त है पर इसमें कुछ ज्यादा ही pure Hindi तूने इस्तेमाल की है, क्या लोग इतनी अच्छी Hindi समझ पाएंगे? “

तब मुझे पता चला कि आज के दौर में जहाँ लोग ठीक से Hindi में बात नहीं कर पते वहां मैंने इतनी कठिन Hindi का प्रयोग कर रहा हूँ, पक्का लोगों को समझने में दिक्कत होती होगी।

उसके बाद से मैंने अपने article को सरल Hindi भाषा में लिखना शुरू किया, और देखते ही देखते मेरे blog का visitor count बढ़ गए और comments की बारिश होने लगी। तब मुझे एहसास हुआ कि एक छोटी सी गलती इतनी भारी पड़ सकती है, दोस्तों आप भी अपना article ऐसे लिखे जो user friendly हो और लोग उसे पसंद करे।

Google support forum भी हमे demotivate करता है।

जब मेरा adsense application बार-बार reject हो रहा था तब मैंने Google support forum से help मांगी तब उनके किसी expert ने कहा कि acchibaat.com कभी भी adsense approved नहीं हो सकता क्योंकि इसके contain दूसरे website के contain से बेकार हैं।

उस समय मैं थोड़ा demotivate हुआ था क्योंकि तब मैंने 400 से ज्यादा article लिख चुका था और इतनी मेहनत करने के बाद भी बार बार मेरे application reject हो रहा था, तब मैंने decide किया था कि मैं blogging हमेशा के लिए छोड़ दूंगा।

मैंने 2-3 दिन तक blogging भी नहीं की, पर मेरे अन्दर blogging का कीड़ा था उसने मुझे उकसाया और कहा कि ” कभी भी मेहनत बेकार नहीं जाती, बस सही समय का इंतजार करो ” मैंने ऐसा ही किया blogging continue किया और कुछ समय के बाद मेरा adsense approved भी हो गया। 

अगर मैं उस समय blogging छोड़ देता तो आज न तो adsense होता न ही मेरा blog। 

Alexa rank की सहायता लें।

Alexa.com एक ऐसी website है जो आपको आपके blog का rank बताती है। मतलब कि आपका blog कितने स्थान पर है। जब मैंने (2017)acchibaat.com पर इसपे search किया तो इसका global rank around 75 lakh था और Indian rank around 4.5 lakh था, तब मैंने एक target set किया की मुझे global ranking 70 lakh और indian ranking 4 lakh करना है।

मैंने छोटा सा target set किया और इस target को achieve करने में मुझे 1 हफ्ते लगे। इसके बाद मैंने दूसरा target set किया। ऐसा करते करते आज acchibaat.com की global ranking 1.1 lakh है और indian ranking 10000 है। ये एक अच्छा option है अपने blog की progress जानने का। 

आप भी इसकी सहायता से अपने blog की progress जान सकते हैं। आप alexa के द्वारा अपने blog के competitor के बारे में भी जान सकते हैं और अपने blog से उनके blog को compare कर के देख सकते हैं कि उन्होंने ऐसा क्या किया कि वो आपसे आगे हैं।

दोस्तों blogging का सफर बड़ा ही आसान है लेकिन उसे कठिन हमारे नजरिये ने बना दिया है। Blogging करना उतना ही आसान है जितना कि सुबह उठ कर breakfast करना, blogging में success पाना है तो इसे अपने जीवन का हिस्सा बनाए, चाहे कुछ भी हो जाए इसके प्रति motivated रहे। क्योंकि सपने उन्ही के सच होते है जिनके सपनों में उम्मीद होती है। Bogging all about passion, motivation and dedication, without target it is nothing। Happy Blogging! Thanks