हर blogger को प्रेरित करने वाला एक ब्लॉग जरुर होता है, जैसे acchibaat.com को प्रेरित करने वाला ब्लॉग achikhabar.com है। आज से पांच साल पहले (2016) जब मैं गूगल पर कुछ खोज कर रहा था तब मैंने acchikhabar.com को visit किया, achhikhabar.com बहुत ही प्रेरक और प्रेरणादायक ब्लॉग है। वहां पे मुझे blogging से संबंधित बहुत सी जानकारी मिली, गोपाल शर्मा जो की achhikhabar.com के संस्थापक है। उनके successful blogging carrier कहानी को पढ़ कर मैं इतना प्रेरित हो गया कि मैंने acchibaat.com ब्लॉग बनाया। 

प्रेरणा तो हमे दूसरे सफल ब्लॉग से मिल जाती है पर अपने ब्लॉग को सफल करने के लिए हमे खुद को अपने ब्लॉग के प्रति प्रेरित करना होगा। अगर आप किसी के ब्लॉग को पढ़ के प्रेरित हो सकते हो और अपने ब्लॉग को पढ़ के प्रेरित नहीं होते तो आपके blogging करने का कोई मतलब नहीं है। Blogging शुरू करने से पहले कुछ बातों का ध्यान रखना बेहद ही जरूरी है ताकि आप अपने ब्लॉग को नई उँचइयो तक ले जा सको।

1. क्यों करना है blogging?

सबसे पहले अपने आपसे ये सवाल करें कि क्यों करना है blogging? इसका जवाब बेशक यही होगा कि दूसरे ब्लॉग इतना शोहरत पा सकते है तो हम क्यूँ नहीं। पर ऐसा नहीं है। Blogging शुरू करने से पहले इस सवाल का जवाब ऐसा होना चाहिए ताकि हमेशा ये आपको प्रेरित कर सके।

जैसे जब मैं achhikhabar.com से प्रेरित होकर acchibaat.com बनाई थी तब मैंने भी ये सवाल खुद से पूछा था। और मेरा जवाब यही था कि लोगो के बीच मुझे लोकप्रिय होना है और लोगों के दिलों में राज करना है, जिसके लिए मुझे हमेशा उनके लिए नए-नए विषय लिखना होगा और आज acchibaat.com ऐसा करने में कामयाब भी हुआ है।

हम आज भी ऐसे लेख लिखते हैं जो लोगो को पसंद आए। Blogging शुरू करने से पहले आप भी कुछ ऐसा करने का सोचें जो कि आपको और आपके visitors को एक साथ प्रेरित करे। अगर आपको blogging शुरू करने की कोई वजह ही नहीं नजर आती तो आपको हमेशा ये दुविधा रहेगी कि आप ने क्यों blogging शुरू की और आप अपने इसी दुविधा में उलझ जाओगे।

2. क्या आपको लिखना पसंद है?

आप अपने अतीत में झांक के देख सकते है, जब आप अपने स्कूल के वाद-विवाद और निबंध प्रतियोगिता में हिस्सा लेते थे तब आपका प्रदर्शन कैसा था। जब आप किसी विषय पर वाद-विवाद और निबंध लिखते थे तब आपको अनुभव कहा से मिलता था।

कुछ लोग रटे-रटाये बातों को ही लिख देते हैं और कुछ अपने अनुभव के बल-बूते लिखते हैं। आपको ये ज्ञान होगा कि आप कितना बेहतर और कितना अच्छा लिख सकते हो। अगर आपको लिखना पसंद है तो आपके लिए blogging सही मंच है नहीं तो आप blogging में ज्यादा दिन नहीं टिक सकते। 

Blogging करना है तो लिखना तो पड़ेगा ही, बिना लिखे blogging में सफल नहीं हो सकते। पर सिर्फ लिखना ही जरूरी नहीं होता, आपको अपने आर्टिकल को ऐसा लिखना होगा जो सभी के लिए नया हो और जिसे लोग पसंद करे। दुनिया एक ज्ञान का भंडार है और इस ज्ञान के भंडार में से आप कुछ चीजों को अपने ब्लॉग पर दर्शा सकते हो।

3. किस विषय में अपना ब्लॉग बनाया जाए?

हर इंसान के अन्दर एक हुनर होता है कोई sports में talented है, तो कोई चित्रकारी में, कोई व्यापारs में, तो कोई पढ़ाई में। आपको अपने अन्दर झांक के देखना होगा कि आपके अन्दर कौन से हुनर छिपे है। आप उन्ही हुनर को लेकर अपने ब्लॉग का विषय निर्धारित करें।

एक दुकान में बहुत सारे विभिन्न प्रकार की चीजें मौजूद है और उसी के बगल में एक ऐसी दुकान है जहाँ सिर्फ cosmetic product मिलते हैं। जब किसी को cosmetic product खरीदना होगा तो वो cosmetic product की दुकान में ही जायेगा। माना की पहले दुकान में cosmetic product पहले से मौजूद है पर लोग दूसरे दुकान को ही पसंद करेंगे। आप अपने ब्लॉग को एक दुकान की भांति समझ सकते हो। आपके ब्लॉग में बहुत से आर्टिकल हैं पर एक विषय में कोई भी आर्टिकल नहीं है। तो लोग आपके ब्लॉग में क्यों आयेंगे? 

acchibaat.com में भी बहुत सारे आर्टिकल है पर हमने relationship आर्टिकल पर ज्यादा focus किया है इसीलिए ज्यादातर visitors हमारे relationship आर्टिकल के लिए ही आते हैं। आप भी अपने ब्लॉग पर एक ऐसी ही विषय चुने जो आपके ब्लॉग की पहचान हो।

अगर आप किसी विषय में महारथी (expert) हैं तो आपके लिए उस विषय पर लिखना कोई मुश्किल काम नहीं होगी पर अगर आपने ऐसी विषय चुना है जिसके बारे मे आपको ज्यादा ज्ञान नहीं है तो आप अपने ब्लॉग को एक निर्धारित दूरी तक ही ले जा सकते हैं।

तो दोस्तों जब भी आप ब्लॉग बनाने की सोचें तो इन 3 सवालों का जवाब आपके पास जरुर होना चाहिए।

  1. क्यों करना है blogging?
  2. क्या आपको लिखना पसंद है?
  3. किस विषय में अपना ब्लॉग बनाया जाए?

अगर आप इन तीनों सवालों का जवाब देने में सक्षम है तो आप अपना खुद का ब्लॉग भी बना सकते हो और उसमे सफलता भी हासिल कर सकते हो। मैं हमेशा कहता हूँ कि जिंदगी बहुत छोटी है जीने के लिए पर ये जीना भी कोई जीना है, कोई कैसा काम कर जाओ यारों ताकि लोगो की जिंदगी कम पड़े आपको याद करने के लिए। Happy Blogging