पथरी की दवा 1 महीने में दिखाएंगी फर्क

पथरी की समस्या काफी दर्दनाक होती है। इससे पीड़ित सभी लोग इससे जल्द ही निदान पाना चाहते हैं। हालाकि operation से  इसका इलाज सही ढंग से किया जा सकत है। यकीनन, अगर Ayurvedic medicines के इस्तेमाल से ही पथरी को ठीक किया जा सकता है तो इसके लिए operation की क्या जरूरत है?

चलिए कुछ पथरी की दवा के बारे में जानते हैं। इसके अलावा आप पथरी का इलाज कुछ घरेलू उपाय से भी कर सकते हैं। पथरी की दवा में घरेलू इलाज जानने के लिए इस लिंक (पथरी का आयुर्वेदिक व घरेलू इलाज) को क्लिक करें।

पथरी होने का Scientific कारण

हमारा पाचनतंत्र, हमारे द्वारा खाएं गए सभी food materials को पचाने का काम करता है।  ये food material जब पाच जाते हैं तब इनका अवशेष(waste materials) गुर्दे और पेशाब के माध्यम से बाहर जाता है। अगर किसी कारणवश ये कार्य प्रभावित होता है तो यह waste materials एक जगह जम जाते हैं और एक ठोस पदार्थ में बदल जाते हैं और वह पदार्थ stone होता है। इसी stone को पथरी के नाम से जाना जाता है। तो चलिए stone के लिए कुछ ख़ास मेडिसिन के बारे में जानेंगे।

पथरी की 4 दवा



पथरी की कई ऐसी  दवाइयां मौजूद हैं जो आसानी से आपके पथरी को घोल सकती हैं। लेकिन, पथरी की दवाइयों का सही ढंग से इस्तेमाल करने के लिए नीचे दी दवाइयों के बारे में पूरा और अच्छी तरह से पढ़ें-

1. Neeri syrup

kidney stone या पथरी को बाहर निकालने के लिए neeri syrup बहुत ही बेहतर सिरप है। कैसे इस्तेमाल करें- 2 चम्मच neeri syrup दिन में तीन बार पियें अथवा डॉक्टर के द्वारा बताई गई खुराक के अनुसार सिरप को पियें। pathri ki dawai में  syrup काफी कारगर है जिसे आपको जरूर इस्तेमाल करना चाहिए। 

2. DIVYA ASHMARIHAR RAS

यह पतंजलि का एक उत्पाद है जो आसानी से kidney stone/ pathri  को बाहर निकलने के लिए मददगार होता है।

कैसे उपयोग करें- नियमित रूप से डॉक्टर के द्वारा बताई गई खुराक या गोली में बताए गए खुराक  के हिसाब से 1 से 2 गोली पानी के साथ खाएंं। pathri ki dawa

इसके बारे में जाने – Divya ashmarihar ras मूत्र संबंधी समस्याओं में राहत देता है। Divya ashmarihar ras में जड़ी-बूटियों से मौजूद मूत्रवर्धक गुण होते हैं। ये तत्व विषाक्त पदार्थों को शरीर से बाहर निकालते हैं और पथरी को बाहर निकालने में मदद करते हैं।

इतना ही नहीं यह औषधि बैक्टीरिया के कारण जमे हुए स्टोन के  इन्फेक्शन को भी प्राकृतिक रूप से बाहर निकलने में कारगर होती है। इतना ही नहीं यह औषधि पथरी के दर्द को भी खतम करती है। इस तरह से Divya ashmarihar ras को पथरी की दवाई में इस्तेमाल किया जा सकता है। यह औषधि Yavkshar , HazrulYahoodBhasma, Mulikshar, KalmiShora, SwetParpati से मिलकर बनी होती है।

3. Dabur Stondab Syrup

डाबर स्टोंडब सिरप कई औषधीय पौधों का उपयोग करके तैयार की जाने वाली पथरी या किडनी के पथरी के लिए आयुर्वेदिक दवाओं में से एक है। pathri ki dawa में इसका इस्तेमाल काफी समय से होता चला आ रहा है।

कैसे उपयोग करे- 2 चम्मच सिरप  दिन में तीन बार पियें अथवा डॉक्टर के द्वारा बताई गई खुराक के अनुसार सिरप को पियें। pathri ki dawa

इसके बारे में जाने- dabur stonedab syrup वरुण, रक्त पुनर्नवा, गुरुची, apamarga, और Pashanbheda से मिलकर बनी होती है। जो पथरी को निकलने के लिए सक्षम होती है।

4. Calcury Tablet

किडनी stone या पथरी को दूर करने के लिए calcury tablet एक बेहतर औषधि है। कैसे उपयोग करें- इस टेबलेट का सेवन करने के लिए दवाई लेते वक्त physician से पूछें।

पथरी की दवा: इस तरह से आप जान चुके हैं की इन दवाइयों को इस्तेमाल कर आप अपने पथरी को आसानी से गला सकते हैं। पथरी की दवा में बताए गए सभी दवाइयां वाकई में कारगर हैं जिसकी मदद से आप आसानी से अपने पथरी को 1 ही महीने में गला सकते हैं।

लेकिन, मेरे सलाह के मुताबिक़ आप एक बार डॉक्टर से चेक अप करा लें और इनके  साइज़ के अनुसार डॉक्टर से इन pathri ki dawa को खाने के सलाह को अच्छी तरह से फॉलो करें।

पथरी रोग में जरूर बरते ये सावधानियाँ:

  • गरिष्ट पदार्थ के सेवन से जरूर बचें।
  • कोई भी ऐसा खान-पान न करें जो आपके लीवर को नुकसान पहुँचाएँ।
  • शराब और भी कोई नशा का सेवन न करें।
  • बीज से भरे फल का सेवन न करें।
  • ऐसा खाना खाएंँ जो आसानी से पच सके।
  • stone ayurveda medicine के इस्तेमाल के दौरान इन बातों का परहेज जरूर करें।
  • इन दवाइयों के इस्तेमाल के साथ दिन में 5 से 6 लीटर पानी पीना अनिवार्य है।

एक टिप्पणी भेजें