भारत में बहुत से घरों को शराब की लत ने ही बर्बाद किया है। शराब पीना एक बुरी आदत नहीं है लेकिन इससे ज्यादा पीना बुरी बात है। अगर आप शराब को दवाई की तरह इस्तेमाल करोगे तो ये आपको स्वस्थ रखेगी लेकिन आप इससे ज्यादा लोगे तो ये एक नशा के जेसे काम करेगी।

शराब की लत दिन प्रति दिन आपको अपनी और खिचती है। शराब के चक्कर में कितने घर बर्बाद हुए है, लड़ाई हुए है और बहुत कुछ। आज का विषय कोई ऐसा विषय नहीं है बल्कि ये भारत के हर घर में किसी की बीवी पूछती है, किसी की माँ, किसी के बच्चे या किसी के रिश्तेदार पूछते हैं कि “शराब की लत को कैसे छुड़ाए”

अगर परिवार का एक सदस्य भी इसकी लत में पड़ जाए तो पूरा परिवार बर्बादी की कगार पर होता है। तो चिंता मत कीजिये नीचे हमने कुछ तरीके बताये है जिस की मदद से आप शराब की लत को छुड़ा सकते हो लेकिन फ़ैसला आपको करना पड़ेगा कि आप क्या चाहते है।

शराब कैसे छोड़े? Sarab Pina Kaise Chode?



दोस्तों नीचे हमने कुछ तरीके बताये है आप इन तरीको को पढ़े और follow करे। हमे उम्मीद है कि आपको इन तरीकों से कुछ मदद मिलेगी।

1. मन में ठान ले

शराब की लत और कोई नहीं छुड़ा सकता है वो सिर्फ़ आप ही छुड़ा सकते हो। शराब की लत को छुड़ाने के लिए न तो कोई दवा है न तो कोई जादू-टोना। अपने मन में बैठा लीजिये कि अब से शराब नहीं पीना है फिर देखिए कि शराब के बिना जिंदगी कितनी अच्छी लगेगी।

शुरू-शुरू में आपको बहुत समस्या होगी, तो ऐसे में आप कोई और चीज़ आज़मा सकते है जेसे की चिंगम (बगलगम) का सहारा ले सकते है। बगलगम से आपका मूह व्यस्त रहेगा और आपका ध्यान भी दारू की तरफ नहीं रहेगा।

2. व्यस्त रहे

शराब की लत तभी लगती है जब इंसान बहुत बेला होता है ऐसे में वो शराब ही पिता रहता है। जो लोग व्यस्त (busy) रहते है उन्हे कभी भी शराब की लत नहीं लगती। बेशक वो शराब पीते है लेकिन एक हद तक। अगर आप बहुत शराब पीते है तो कृपया अपने आप को जितना हो सके उतना व्यस्त रखे, हम ये नहीं कह रहे है कि शराब न पिये लेकिन limit से तो पिए। शराब की लत जल्दी नहीं छूटेगी है लेकिन उसे कम करने की इंसान कोशिश तो कर सकता है।

3. अपना नहीं तो अपने घर वालो के बारे में सोचो

हम आपके कौन होते है, ये कहने के लिए कि शराब छोड़ दो। वो आपकी जिंदगी है और आप जो मर्ज़ी कर सकते हो लेकिन एक बार अपने घर वालों के बारे में सोचिये कि शराब की वजह से आपके घर पर क्या असर पड़ रहा है। इसका सीधा असर आपके बच्चों पर पड़ता है और वो अपने राह से भटक सकते है। क्या पता बाद में वो भी आपकी तारह शराब पीना शुरू कर दे क्योंकि घर का सबसे ज्याद असर बच्चों पर पड़ता है और ख़ासकर माँ-बाप का। इसलिए कृपया ठंडे दिमाग़ से सोचे और सही फ़ैसला ले। क्या पता हमारा ये आर्टिकल आपकी जिंदगी को बदल दे।

4. शराबियो के साथ न घूमे

माहौल का बहुत फर्क पड़ता है, चाहे आप किसी समाज में रहो या अपने दोस्तो के साथ। जैसा माहौल होगा आप भी वैसे ही होंगे मतलब आपकी संगति अच्छे लोगो के साथ है तो आप का व्यवहार वैसा ही होगा और अगर आपके दोस्त नशेड़ियो और शराबियो वाला होगा तो आप भी वेसे ही होंगे।

किसी ने खूब ही कहा है की “जैसी संगत वेसी रंगत”

अगर आप बहुत शराब पीते हो तो ऐसा नहीं हो सकता है कि आपके संगत शराबियो के साथ न हो। तो कृपया उनका साथ छोड़ दे फिर देखिए कि आपमे कितने बदलाव आयेंगे।

5. इसके नुकसान के बारे में सोचे

एक बार ठंडे दिमाग़ से बैठ कर सोचे कि क्या मैं सही कर रहा हूं। शराब पीने से क्या सब सही हो रहा है, मेरे घर वालों पर इसका क्या असर पड़ रहा है। ज़रा उस दिन को याद करे जब आप शराब पीकर घर आते थे और अपने घरवालों के चेहरे के impression को याद करे, आप जरुर उसी समय शराब छोड़ देंगे।

हम आपको दावे से कह सकता है और ये फ़ॉर्मूला ज़रूर काम करेगा।

आज आपने क्या जाना?

आज आपने जाना कि शराब कि लत से कैसे छुटकारा पाए और हमें पूरी उम्मीद है कि आप शराब कि लत से जल्द ही छुटकारा पा लोगे। तो दोस्तो, ये आर्टिकल आपको कैसा लगा ज़रूर हमे कॉमेंट करे और प्लीज़ इस आर्टिकल को जितना हो सके उतना share करे, क्या पता ये आर्टिकल पढ़ के किसी की जिंदगी बदल जाए और घर खुशहाल हो जाये।