हर एक छात्र एक जैसा नहीं होता। हर स्टूडेंट की पसंद अलग अलग होती है। हर छात्र को अलग-अलग विषयों में रूचि होती है। कुछ लोग कला के साथ जुड़ना चाहते हैं तो कुछ विज्ञान में रुचि रखते हैं। वहीं कुछ व्यवसाय में अपना भविष्य उज्जवल करना चाहते हैं। लेकिन कुछ बच्चे ऐसे होते हैं जिन्हें कंप्यूटर के क्षेत्र में ज्यादा रुचि होता है। तो उनको कौन सा कोर्स करना चाहिए।

आज हम इसी विषय पर चर्चा करने वाले हैं जो बच्चे कंप्यूटर के साथ लगाव महसूस करते हैं और कंप्यूटर क्षेत्र में कुछ करना चाहते हैं और अपना करियर कंप्यूटर के साथ सेट करना चाहते हैं उनके लिए सबसे बेस्ट है कोर्स है BCA यानी बैचलर ऑफ कंप्यूटर एप्लीकेशन।

टेक्नोलॉजी के इस जमाने मे हर दूसरे छात्रों का रुझान इस कोर्स की तरफ जा रहा है इसका एक और महत्वपूर्ण कारण यह भी है कि इस कोर्स को कर लेने के बाद आसानी से नौकरी मिल जाती हैं और अच्छी सैलरी मिलती है। अगर सरकारी जॉब न भी लगे तो प्राइवेट नौकरी की कोई कमी नहीं होती। इस कोर्स को करने के बाद, प्राइवेट नौकरी करके भी हम अच्छी सैलरी कमा सकते हैं।

आज हम ना सिर्फ BCA क्या है यह बताएंगे बल्कि इसके बारे में पूरी जानकारी आपको देंगे। हमें उम्मीद है इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपको कहीं और जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी इस टॉपिक के विषय में जानने के लिए। तो आप लोग बस इस आर्टिकल को पूरा पढ़िए और ध्यान से पढ़िये। सबसे पहले हम यह जानते हैं कि BCA क्या है।

BCA क्या है?

BCA, कंप्यूटर अनुप्रयोगो (Computer Applications) में एक स्नातक डिग्री कोर्स है। भारत में आईटी उद्योगों (IT Industries) के तेजी से होते विकास के साथ, कंप्यूटर पेशेवरो की मांग दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। आईटी उद्योग के इस बढ़ते विकास ने कंप्यूटर स्नातकोंके लिए बहुत सारे अवसर पैदा कर किए हैं। जिसके कारण बच्चो का झुकाव BCA की तरफ बढ़ रहा है।

BCA क्या है? भारत के Top 10 BCA College in Hindi
Bca kya hai?

बैचलर इन कंप्यूटर एप्लीकेशन (BCA) खासकर के उन छात्रों के बीच लोकप्रिय पाठ्यक्रमों में से एक है जो IT (सूचना प्रौद्योगिकी) क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते हैं। आपको बता दें, पाठ्यक्रम की अवधि 3 वर्ष है और यह 6 Semesters में विभाजित है।

इसमें डेटाबेस (Database), नेटवर्किंग(Networking), डेटा संरचना(Data Structure), कोर प्रोग्रामिंग भाषाओ (Core programming languages) जैसे विषय शामिल हैं। यह कोर्स उन छात्रों को बहुत सारे अवसर प्रदान करता है जो कंप्यूटर क्षेत्र में रुचि रखते हैं और प्रोग्रामर या सॉफ्टवेयर डेवलपर के रूप में आईटी क्षेत्र में काम करना चाहते हैं। अब चलिए जानतें है कि BCA का full form क्या होता है।

Full form of BCA

BCA का full form होता है Bachelor of computer Application. जैसा कि इसके नाम से ही पता चल रहा है कि यह कंप्यूटर के साथ जुड़ा हुआ course है।

BCA Course को करने के लिए योग्यता

किसी भी परीक्षा की योजना बनाने से पहले कुछ बुनियादी और महत्वपूर्ण बिंदुओं की जांच करना बहुत महत्वपूर्ण है। किसी भी course के लिए मन बनानेे से पहले सबसे महत्वपूर्ण बिंदु पात्रता है। सबसे पहले आपको यह जांच लेने की जरूरत है कि आप वांछित पाठ्यक्रम के लिए योग्य है या नहीं।

जो भी छात्र अपने उच्च अध्ययन के रूप में BCA में रुचि रखते हैं, उनके लिए नीचे दिए गए योग्यता के मानदंडों को पूरा करना बहुत जरूरी होता है।

1. सबसे पहले उम्मीदवार भारत का नागरिक होना चाहिए।

2. सुनिश्चित करें कि आप कक्षा 12 वीं या उसके समकक्ष परीक्षा में उत्तीर्ण हुए हैं, जिसमें आपका एक विषय अंग्रेजी और एक गणित अनिवार्य रूप से होने चाहिए।

3. 12वी में आपके अंक कम से कम 50% जरूर होने चाहिए।

3. इस Course के लिए न्यूनतम आयु सीमा 17 वर्ष है। अधिकतम आयु 22-25 वर्ष के बीच होती है। विभिन्न College अधिकतम आयु सीमा अलग अलग निर्धारित करती है।

अब बारी है यह जानने की कि कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में इस Course के लिए Candidates का चुनाव कैसे होता है और छात्रों को प्रवेश कैसे मिलता है।

BCA Admission procedure

ज्यादातर, बीसीए कोर्स में प्रवेश प्रवेश परीक्षा (Entrance exam) के माध्यम से होता है। विभिन्न विश्वविद्यालय / संस्थान अपने कॉलेजों में प्रवेश देने के लिए अपनी प्रवेश परीक्षा आयोजित करते हैं। छात्रों को आम तौर पर विभिन्न संस्थानों / विश्वविद्यालयों द्वारा आयोजित व्यक्तिगत साक्षात्कार और लिखित परीक्षा के आधार पर प्रवेश दिया जाता है। कुछ संस्थान / विश्वविद्यालय मेरिट के आधार पर छात्र को Admission देते हैं। यह मेरिट, उम्मीदवार के 12वीं में प्रदर्शन के आधार पर तैयार की जाती है।

पाठ्यक्रम की अवधि (Course Duration) और विषय (Subjects)

BCA की अवधि 3 साल है। यह एक 3 साल की अवधि के लिए कंप्यूटर अनुप्रयोगो (Computer Application) में एक स्नातक डिग्री (Bachlor Degree) पाठ्यक्रम है।

बीसीए(BCA) पूरा करने के बाद, एक छात्र एमसीए(MCA) के लिए जा सकता है। MCA, कंप्यूटर एप्लीकेशन(Computer Application) में मास्टर कोर्स(Master Course) है। इस course खास बात यह है कि इस Course को इंजीनियरिंग कोर्स ,बी.टेक (B.Tech)के समकक्ष माना जाता है।

Subject

BCA के अध्ययन में विभिन्न विषयों जैसे –

  • C Language (Basic और Advanced)
  • Networking
  • World-Wide-Web
  • Data Structure
  • Advanced C Language Programming
  • Database Management
  • Mathematics
  • Software Engineering
  • Object Oriented Programming + ++

का उपयोग करके विभिन्न विषयों को शामिल किया गया है। यह कुछ Basic subjects है। इनके अलावा भी बहुत सारे विषयो को BCA के अंदर Include किया गया है।

जरुर पढ़ें- Memory तेज कैसे करें? याददाश्त बढ़ाने के घरेलू उपाय

BCA करने के बाद करने वाले Master Courses

Master in Computer Application (MCA)

बीसीए(BCA) पूरा करने के बाद उच्च शिक्षा के तौर पर आप MCA कर सकते है। एमसीए(MCA) एक ही क्षेत्र में विषयों का विस्तृत ज्ञान आपको देता है। भारत में कई सर्वश्रेष्ठ MCA कॉलेज हैं, जो BCA के मेधावी उम्मीदवारों के लिए अच्छी अकादमिक पृष्ठभूमि प्रदान करते हैं।

Masters in Business Administration (MBA)

बीसीए(BCA) करने के बाद, आप एमबीए(MBA) पाठ्यक्रम का विकल्प भी चुन सकते हैं। यह Course, प्रबंधकीय विशेषज्ञ(Management Specialist) के रूप में आपके प्रबंधन कौशल को विस्तृत रूप से तैयार करेगा।

Masters in Computer Management (MCM)

उच्च अध्ययन के लिए एक और बढ़िया विकल्प मास्टर्स इन कंप्यूटर मैनेजमेंट (MCM) है। इस पाठ्यक्रम में, छात्रों को किसी पूर्ण सॉफ्टवेयर परियोजना (Complete Software Project) को संभालने के लिए पूरी तरह से तैयार किया जाता है।

BCA करने के बाद नौकरी

1. RRB JE (रेलवे भर्ती बोर्ड जूनियर इंजीनियर)

रेलवे भर्ती बोर्ड जिसे आमतौर पर आरआरबी के रूप में जाना जाता है, हर साल जूनियर इंजीनियर के लिए बड़ी vacancy निकलती है। RRB JE परीक्षा हर साल आरआरबी की तरफ से आयोजित किया जाता है ताकि कनिष्ठ अभियंता ( Junior Engineer) के पद के लिए उम्मीदवारों का चयन किया जा सके।

2 आरआरबी ग्रुप सी (RRB Group C)

आरआरबी को भारत सरकार के निर्देशन में रेलवे के लिए विभिन्न भर्ती परीक्षा आयोजित करने की जिम्मेदारी दी जाती है। आरआरबी ग्रुप सी(RRB Group C) भारतीय रेलवे में विभिन्न स्तरों पर नए कर्मचारियों की भर्ती या नियुक्ति के लिए एक व्यापक अवसर प्रदान करता है।

RRB ALP (सहायक लोको पायलट), JE (आईटी और अन्य क्षेत्र), Assistant Maneger (सहायक प्रबंधक) आदि की भर्ती केे लिए प्रमुख रूप से RRB Group C, मेधावी उम्मीदवारों को आमंत्रित करता हैें।

आप लोग RRB group C द्वारा निकाली जा रही Vacancies पर नजर रखें। उम्मीदवार, जिन्होंने कंप्यूटर अनुप्रयोग की डिग्री प्राप्त की है या अंतिम वर्ष में हैं, निश्चित रूप से आरआरबी ग्रुप सी पदों के लिए जा सकते हैं।

ये भी जाने- इन 9 तरीकों से करें पढ़ाई, बेस्ट स्टडी टिप्स

3. आरआरबी एनटीपीसी (RRB NTPC)

गैर-तकनीकी लोकप्रिय श्रेणियाँ (NTPC)! भारत में अधिकांश कुशल उम्मीदवारों के लिए सबसे अधिक पसंद किया जाने वाला काम है। बीसीए(BCA) की डिग्री पूरी करने के बाद, आप आरआरबी एनटीपीसी परीक्षा का विकल्प चुन सकते हैं और भारतीय रेलवे में अपने सुनहरे भविष्य का निर्माण कर सकते हैं।

बीसीए स्नातकों के लिए कई नौकरियों की रिक्तियां उपलब्ध हैं।

4. बहुराष्ट्रीय कंपनियो (MNCs) में नौकरियां

इन्फोसिस(Infosys), माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft), एक्सेंचर(Accenture) एचसीएल टेक्नोलॉजीज(HCL Technologies), टीसीएस(TCS), टेक महिंद्रा(Tech Mahindra) जैसी बहुत सी कंपनियों में सॉफ्टवेयर इंजीनियर (Software Engineer), नेटवर्क इंजीनियर(Network Engineer), सॉफ्टवेयर कंसल्टेंट (Software Consultant), टेस्ट इंजीनियर (Test Engineer), कंप्यूटर इंजीनियर विश्लेषक (Computer Engineer Analyst), डेटाबेस (Database) जैसे पदों पर बीसीए (BCA) छात्रों के लिए हमेशा नौकरी की रिक्तियां होती हैं।

5. Full Time Freelancing job

बीसीए पूरा करने के बाद, कोई भी स्वतंत्र रूप सेें अपने करियर पर विचार कर सकता है या अपने career के बारे में सोच सकता है। एक फ्रेशर(Fresher) जिसके पास प्रोग्रामिंग लैंग्वेज और डिजाइनिंग स्किल्स जैसे जावा (Java), सी(C), सी ++(C++), एक्सएमएल(XML), एचटीएमएल 5(HTML 5)और अन्य Subjects के ऊपर उत्कृष्ट कमांड है, वे फ्रीलांसिंग का विकल्प चुन सकते हैं।

6. डिजिटल मार्केटिंग जॉब्स (Digital marketing Jobs)

आज की date में, डिजिटल दुनिया में हर गुजरता हुआ पल एक वरदान के रूप में रहा है। डिजिटल अर्थव्यवस्था अन्य पारंपरिक अर्थव्यवस्था और फर्मों (Firms) की तुलना में 10 गुना तेजी से बढ़ रही है। इस डिजिटल दुनिया से रूबरू होकर उसका लाभ उठाने के लिए, उम्मीदवार, डिजिटल मार्केटिंग की नौकरियों और रिक्तियों के लिए जा सकतें है।

7. Combined Defence Service

बीसीए(BCA) की एक डिग्री आपको आईटी उद्योग के कई क्षेत्रों में एक मजबूत शैक्षणिक ज्ञान प्रदान करती है। ऐसे छात्रों के लिए संयुक्त रक्षा सेवा (CDS), भारतीय मिलिट्री (Indian Army), नौसेना(Navy) और वायु सेना (Air Forces) सहित भारत के कई रक्षा बलों के लिए भारी संख्या में रिक्तियां निकालती रहती है।

IBPS PO परीक्षा

8. IBPS PO

इंस्टीट्यूट ऑफ बैंकिंग पर्सनेल सिलेक्शन (IBPS), IBPS प्रोबेशनरी ऑफिसर्स (PO)/ मैनेजमेंट ट्रेनी के पद के लिए मेधावी उम्मीदवारों का चयन करने के लिए हर साल सामान्य भर्ती प्रक्रिया का आयोजन करता है। हर साल, परीक्षा तीन-चरण यानी प्रारंभिक (Prelims), मेन्स(Mains) और साक्षात्कार(Interview) में आयोजित की जाती है।

आइये अब यह जान लेते हैं कि BCA करने के लिए top कॉलेजेस कौन कौन से है —

BCA के लिए Top 10 कॉलेजो की list

1. Gandhi Engineering College (GEC) भुवनेश्वर

गांधी इंजीनियरिंग कॉलेज एक निजी कॉलेज है और इसे 2006 में स्थापित किया गया था। आपको बता दे, यह कॉलेज AICTE, NAAC द्वारा मान्यता प्राप्त है। गांधी इंजीनियरिंग कॉलेज विज्ञान, इंजीनियरिंग, प्रबंधन, सूचना प्रौद्योगिकी विषयों समित कुल 25 पाठ्यक्रमों में शिक्षा प्रदान करता है। इस कॉलेज के लोकप्रिय पाठ्यक्रम एम.टेक, बीसीए, बीबीए, बीएससी, एमबीए हैं।

2. G.L.S. इंस्टिट्यूट ऑफ कंप्यूटर एप्लीकेशन (GLSICA), अहमदाबाद

जी.एल.एस. इंस्टिट्यूट ऑफ़ कंप्यूटर एप्लीकेशन एक निजी कॉलेज है और इसे 1927 में स्थापित किया गया था। इस कॉलेज को NAAC द्वारा मान्यता प्रदान किया गया है। G.L.S. इंस्टीट्यूट ऑफ कंप्यूटर एप्लीकेशन सूचना प्रौद्योगिकी (IT) धारा में 4 पाठ्यक्रम प्रदान करता है। लोकप्रिय पाठ्यक्रम पीजीडी(PGD), बीसीए(BCA), एमएससी(MSc) हैं।

3. National Institute of Mumbai (NIM) Mumbai

राष्ट्रीय प्रबंधन संस्थान एक निजी कॉलेज है और इसे 1990 में स्थापित किया गया था। यह कॉलेज AICTE द्वारा मान्यता प्राप्त है। राष्ट्रीय प्रबंधन संस्थान – प्रबंधन, विज्ञान, इंजीनियरिंग और सूचना प्रौद्योगिकी धाराओं के कुल 30 पाठ्यक्रम में शिक्षा प्रदान करता है। इस कॉलेज के लोकप्रिय पाठ्यक्रम बी.टेक, एमबीए, बीबीए, कार्यकारी एमबीए, एमसीए हैं।

4. Vellore Institute of Technology (VIT), Vellore

Vellore Institute of Technology एक निजी कॉलेज है और इसे 1984 में स्थापित किया गया था। इसे NAAC, MHRD, UGC द्वारा मान्यता प्राप्त है। Vallore प्रौद्योगिकी संस्थान प्रबंधन, व्यावसायिक, होटल प्रबंधन, डिजाइन, सूचना प्रौद्योगिकी धाराओं में कुल 92 पाठ्यक्रम प्रदान करता है। इस कॉलेज के लोकप्रिय पाठ्यक्रमों में एम.फिल (M. phil), बीटेक(B.Tech), बीएससी (B.Sc), बी आर्च B.Arch, एम टेक (M.Tech) हैं। कॉलेज का placement record Stream to Sream भिन्न होता है। आपको बता दे कि 2019 अकादमिक वर्ष में उच्चतम पैकेज 39.5 लाख था।

5. इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज (IMS), नोएडा

इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज एक निजी कॉलेज है और इसे 1998 में स्थापित किया गया था। यह AIU, NAAC, AICTE द्वारा मान्यता प्राप्त है। इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज परफॉर्मिंग आर्ट्स, इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी, मीडिया एंड मास कम्युनिकेशन, लॉ, मैनेजमेंट स्ट्रीम में कुल मिलाकर 24 Course कराता है। इस कॉलेज का लोकप्रिय पाठ्यक्रम MJMC, BFA, MCA, Certificate, BBA हैं। कॉलेज का प्लेसमेंट रिकॉर्ड स्ट्रीम से स्ट्रीम में भिन्न होता है। 2016 के शैक्षणिक वर्ष में उच्चतम पैकेज 4.2 लाख था।

6. हरियाणा कॉलेज ऑफ़ टेक्नोलॉजी एंड मैनेजमेंट (HCTM, KAITHAL) कैथल

हरियाणा कॉलेज ऑफ़ टेक्नोलॉजी एंड मैनेजमेंट एक प्राइवेट कॉलेज है और इसे 1998 में स्थापित किया गया था। यह कॉलेज हरियाणा सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्रालय के तकनीकी शिक्षा निदेशालय द्वारा मान्यता प्राप्त है। आपको बता दें कि हरियाणा कॉलेज ऑफ टेक्नोलॉजी एंड मैनेजमेंट इंजीनियरिंग, सूचना प्रौद्योगिकी, प्रबंधन धाराओं में कुल 14 पाठ्यक्रम प्रदान करता है। लोकप्रिय पाठ्यक्रम M.Tech, MCA, BCA, BBA, MBA हैं। कॉलेज का प्लेसमेंट रिकॉर्ड स्ट्रीम से स्ट्रीम में भिन्न होता है। 2015 के शैक्षणिक वर्ष में उच्चतम पैकेज 6.4 लाख था।

7. DAV College, चंडीगढ़

DAV College एक निजी कॉलेज है और इसे 1958 में स्थापित किया गया था और एनएएसी द्वारा मान्यता प्राप्त है। डीएवी कॉलेज प्रबंधन, व्यावसायिक, कला और मानविकी, चिकित्सा, सूचना प्रौद्योगिकी धाराओं में 35 पाठ्यक्रम प्रदान करता है। लोकप्रिय पाठ्यक्रम MA, BSc, PhD, M.Com, B.Sc + B.Ed हैं। कॉलेज का प्लेसमेंट रिकॉर्ड स्ट्रीम से स्ट्रीम में भिन्न होता है। 2016 के शैक्षणिक वर्ष में उच्चतम पैकेज 5 लाख था।

8. Department of Computer Science Christ University

क्राइस्ट कॉलेज की स्थापना वर्ष 1969 में हुई थी और 22 जुलाई 2008 को इस कॉलेज को एक विश्वविद्यालय के रूप में माना जाने वाला संस्थान घोषित किया गया था। क्राइस्ट यूनिवर्सिटी के कंप्यूटर विज्ञान विभाग को बीसीए फुलटाइम कोर्स के लिए प्रतिष्ठित माना जाता है, छात्रों को कंप्यूटर शिक्षा प्रदान की जाती है ताकि उन्हें एक व्यापक सीखने का माहौल दिया जा सके ताकि वे वैश्विक मांग को समझ सकें।

9. SRM विज्ञान और प्रौद्योगिकी संस्थान

SRM विश्वविद्यालय, कांचीपुरम, तमिलनाडु, भारत में स्थित एक शानदार निजी विश्वविद्यालय है, और 1985 में मद्रास विश्वविद्यालय की संबद्धता के साथ कट्टनकुलथुर में SRM इंजीनियरिंग कॉलेज के रूप में स्थापित किया गया था। जो students BCA course को करने के लिए है मन बना रहे हैं, वह इस विश्वविद्यालय में जा सकते है। SRM विश्वविद्यालय को BCA पूर्णकालिक कार्यक्रम के लिए सर्वश्रेष्ठ कॉलेजों में मान्यता दिया गया है।

10. मणिपाल विश्वविद्यालय जयपुर

मणिपाल विश्वविद्यालय जयपुर, एक निजी विश्वविद्यालय है जो कैरियर उन्मुख उच्च शिक्षा पाठ्यक्रमों के लिए अच्छी तरह से अनुकूल है। सूत्रों के अनुसार यह वर्ष 2011 में पैदा हुआ था। बैचलर ऑफ कंप्यूटर साइंस(BCA) कोर्स प्रदान करने की एक श्रृंखला में, मणिपाल विश्वविद्यालय जयपुर क्षेत्र में समय से साथ सर्वश्रेष्ठ बन गया है।

कॉलेजों के बारे में जानने के बाद अब बारी आती है यह जानने की कि बीसीए करने के फायदे कौन-कौन से है। तो चलिए अब फायदों के बारे में भी जानते हैं।

BCA करने के फायदे

जल्दी नौकरी के अवसर

BCA करने का सबसे पहला जो फायदा है वह यह है कि इस कोर्स को करने के बाद नौकरी बहुत जल्दी लग जाती है और जहां भी नौकरी लगती है हम अच्छी खासी सैलरी पर काम करते हैं। इस कोर्स को करके हम कम समय में ही काफी पैसे कमा लेते हैं। वह बच्चे जो जिंदगी में जल्द से जल्द कोई नौकरी पाना चाहते हैं और अपनी life में settle होना चाहते हैं, उनके लिए सबसे बेस्ट कोर्स BCA ही है।

Deep knowledge

इस कोर्स को करने से हमें टेक्नोलॉजी का एक डीप नॉलेज प्राप्त होता है, जो हमारे कैरियर और जिंदगी के लिए बहुत ज्यादा अच्छा होता है। बीसीए कोर्स को करके हम कंप्यूटर की एक नई दुनिया से परिचित होते हैं, जिससे आम लोग शायद परिचित नहीं है। इस कोर्स को कर लेने के बाद हम एक तरह से कंप्यूटर के महारथी बन जाते हैं और किसी को आसानी से इस बारे में कोई ज्ञान या सुझाव दे सकते हैं।

Tuition से Earning

BCA करने के बाद हम ट्यूशन देकर भी काफी पैसे कमा सकते हैं। नौकरी करने के बाद भी अगर हमारी सैलरी हमारी जरूरतों के लिए कम पड़े तो ऐसे में हम पार्ट टाइम में बच्चों को ट्यूशन देकर अच्छे खासे पैसे कमा सकते हैं। यह एक ऐसा विषय है जिसके बारे में हर कोई जानना चाहता है, हर कोई सीखना चाहता है। ऐसे में एक BCA करने वाला टीचर हर एक स्टूडेंट चाहता है और ऐसे टीचर से हर कोई ट्यूशन लेने का इच्छुक रहता है।

घूमने फिरने का अवसर

BCA करने के बाद हम हमें अगर कहीं बाहर नौकरी लग जाती है तो हम बाहर बाहर बहुत सी जगहों पर घूम सकते हैं और अपनी जिंदगी का मजा ले सकते हैं। खासकर जिन लोगों को घूमने फिरने का, बाहर जाने का बहुत ज्यादा शौक है, उनके लिए यह कोर्स परफेक्ट है। क्योंकि बाहर नौकरी मिली तो घूमने-फिरने का मौका तो अवश्य मिलेगा।

निष्कर्ष – Conclusion

कैसी लगी आपको यह Post? उम्मीद करते हैं इस Post को पढ़ने के बाद आपके मन में BCA को लेकर कोई सवाल नहीं बचा होगा और आपका हर doubt क्लियर हो गया होगा।

तो अगर आपको यह आर्टिकल हेल्पफुल लगा तो आप इसको लाइक जरूर करिए और आप अपने उन दोस्तों के साथ इस पोस्ट को जरूर से जरूर शेयर करिए जो BCA करने का मन बना रहे हैं या BCA कर रहे हैं या फिर भी BCA करना चाहते हैं।

हमें पूरी उम्मीद है यह आर्टिकल बहुत सारे बच्चों को हेल्प करेगी, जो BCA क्षेत्र में रुचि रखते हैं और इस कोर्स को करके अपने करियर को Develop करना चाहते हैं।

हमने अपनी तरफ से पूरा प्रयास किया लेकिन अगर अभी भी हमसे कुछ छूट गया हो जो आपको पता हो तो कमेंट बॉक्स में जरुर शेयर करें और अगर कोई सवाल आप करना चाहते हो तो कमेंट बॉक्स में हमसे जरूर पूछें। धन्यवाद!