दुख कैसे दूर करें ?

अगर आपको किसी तरह का दुख है तो हम हम बता दें कि आपको यह article काफी helpful साबित हो सकता है क्योंकि आपने अपने दुख को दूर करने की पहली कोशिश कर ली है इस article को पढ़ना शुरू कर के. दुख बहुत से तरह के होते हैं मगर हर तरह का दुख सिर्फ तकलीफ ही देता है और हम ऐसी मुकाम पर पहुच जाते हैं जहां हमें कुछ भी अच्छा नहीं लगता है. पिछले article में हमने बात की थी कि depression को कैसे दूर किया जा सकता है ? मैं request करूँगा कि आप उस article को जरूर पढ़ें क्योंकि ज्यादातर दुख अगर न रोका गया तो depression का रूप ले सकता है.

दुख किस वजह से हो रहा है ? dukh kaise dur kare ?

दुख का इलाज करने से पहले यह पता लगाना जरूरी है कि दुख का कारण क्या है क्योंकि बहुत से लोग बिना किसी कारण के दुखी रहते हैं तब हम कह सकते हैं कि वह depression का शिकार हैं, जिसके लिए वह यह article पढ़ सकते हैं जिसमें depression को दूर करने की बात बताई गयी है और अगर आपको पता है कि आप दुखी क्यों हैं नीचे दिए गए उस particular point को पढ़ें.

क्या आप प्यार में दुखी हैं ?

प्यार में जितना सुख अच्छा लगता है उतना ही बुरा लगता है जब हम दुखी होते हैं. अगर आपको दुख है आपके breakup का तो आप अपनी तरफ से कुछ नहीं कर सकते हैं. अगर आपका/आपकी lover आपको छोड़ गयी तो बेहतर है life में move on कर लें. आप पहले नहीं जिसके साथ ऐसा हुआ है. अपने आस पास देखेंगे तो बहुत से लोगों के साथ ऐसा हो चूका है और वह life में move on कर चुके हैं और ज़्यादातर देखा गया है कि जिनके साथ breakup होता है वह अपनी life में आगे जाकर successful बनते हैं और उन्हें बहुत अच्छा lover मिल जाता है. Life चलता रहता है, किसी के लिए नहीं रखता, बेहतर है कि आप किसी और चीज में अपना मन लगाए.

क्या आप किसी की मौत से दुखी हैं ?

जीवन का एकमात्र सत्य मृत्यु (death) है. जो इस दुनिया में आया है वह जायेगा भी जरूर, हाँ यह अलग बात है कोई अपने समय से पहले चला जाता है. और अपनों के चले जाने का दुख किसे नहीं होता ? मगर एक बार जो चला जाता है वह कुछ भी कर लो वापिस नहीं आएगा.ऐसे में कई लोग कहते हैं कि आप उन्हें भूल जाये और अपने काम में मन लगा लें. अगर आपको उनकी याद आती है तो आप अपने आपको इतना busy कर लें कि उस तरफ ध्यान न जाये.

ऊपर वाले ने हमें एक वरदान दिया है ‘भूलना’ हम समय से साथ चीजों को भूल जाते हैं और यह अच्छी बात है, समय बीत जाने पर दुख भी कम जो जाता है. इसलिए अगर आपको भी जैसा feel हो रहा है जिंदगी भर feel नहीं होगा, उनकी याद तो जरूर आएगी मगर उनके जाने का दुख काम हो जायेगा. इसलिए अपने आपको busy रखने की कोशिश करें कुछ दिनों के लिए. याद रखें की सोना, खाना और नहाना कभी नहीं रुकना चाहिए

क्या आप अपनी पढ़ाई को लेकर दुखी हैं ?

बोहोत से लोग अपनी पढ़ाई को लेकर दुखी होते हैं क्योंकि उनका पढाई में मन नहीं लगता है. ऐसा होने के दो reason होते हैं, पहला जो subjects उन्होंने चुने होते हैं उनमें उनका interest नहीं होता है. इसका एक solution है कि आप कोशिश करें कि उन subjects को चुने जिनमें आपकी रूचि है, घर वालो को मनाएं और अपने पसंद के subject पढ़ें.

दूसरा उन्हें पढाई से ही कोई लगाव नहीं होता है और वह अपने घर वालों के दबाव के कारण पढ़ाई कर रहे होते हैं. अगर आप इस दुनिया में अच्छे से जीना चाहते हैं तो आपको कम से कम basic study तो करनी ही चाहिए. कोशिश करें कि कम से कम 12th पास कर लें और फिर अगर आपको पढाई में interest नहीं है तो कोई skill सीखने की training ले लें.

क्या आप अपने career को लेकर दुखी हैं ?

इस दुनिया में बहुत से लोग हैं जो अपनी पूरी life ऐसा काम करने में गुजार देते हैं जो उन्हें पसंद नहीं होता है. आप यह मान लें कि दिन के 8 घंटे (यानी 1/3 part of life) आप काम करेंगे. तो काम भी ऐसा होना चाहिए जो आपको पसंद हो. अगर आप अपनी मर्जी का काम नहीं कर रहे है तो जाहिर है आप दुखी रहेंगे. इसलिए अपनी पसंद का काम करें भले ही salary थोड़ी कम मिले मगर आप mentally satisfied रहेंगे. अगर आप किसी office में हैं जहां आप खुश नहीं हैं तो उस office में काम करने का फायदा नहीं है, दूसरी जगह खोज लें जहा आप खुश रहे, जहां आपका मन लगे.

क्या आपको किसी और तरह का दुख है ?

Article के चलते हम बस कुछ ही topic cover कर सकते हैं, इसलिए अगर आपको किसी और तरह का दुख है तो आप comment में लिख सकते हैं हम उसका जवाब देने की पूरी कोशिश करेंगे.

4 Replies to “दुख कैसे दूर करें ?”

  1. hellooo bhai bhai ek problem he ki meri or meri gf ki daily fight hoti he har choti choti bato par or uske baad me gussa ho jata (short temper) isse baat aage bd jati he uski dressing sence se muje problm he bhai wo bhot achi he nature bhi acha he but dikkat ye he ki wo mere liye time nahi nikal pati he wo pure din couching ya ghr ke kaamo busy hoti he or meri jb bhi fight hoti he to wo gussa ,ere bussiness pe aajata he

    plsssss help bro

    1. Jab logon ki thiking nahi milti to jagada hita hi hai ye natural hai.. Aap dono ki thinking nahi millti aise me aap apni thnkink ko change karo ya fir jaisa ho raha hai hone do.. Lekin aap apni thinking change nahi karoge to aapka reletion jyada dino tak nahi tikega..

    2. Bhai main picchle 2 saal se pareshan hu or 2 saal se kuch accha nhi ho rha sirf bura ho rha h main ek ladki se pyaar krta tha wo mujhe nhi mili wo mujhse alg ho gyi mera result kharab aaya tha study ka or bhi kaafi kuch galat ho rha h mere saath ab mera dukh mere sabr ke bahar jaa rha h main ab or sehen nhi kr skta please mujhe koi tarika bataiye wrna main sucide kr lunga

    3. Bhai main picchle 2 saal se pareshan hu or 2 saal se kuch accha nhi ho rha sirf bura ho rha h main ek ladki se pyaar krta tha wo mujhe nhi mili wo mujhse alg ho gyi mera result kharab aaya tha study ka or bhi kaafi kuch galat ho rha h mere saath ab mera dukh mere sabr ke bahar jaa rha h main ab or sehen nhi kr skta please mujhe koi tarika bataiye wrna main sucide kr lunga

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.