बोलने की कला आपके सुंदरता को निखारती है – The art of speaking refines your beauty, In Hindi

आज कल होने वाली fashion competition में बोलने की कला और हाजिर जवाब का होना बहुत important होता है. Competition से अलग हटके देखें तो भी बोलने का सलीका आना किसी गैर को अपना बनाने के लिए, किसी के साथ घुल मिल जाने के लिए बहुत essential है. ऐसे लड़कियां सबका मन मोह लेती हैं. अगर सुन्दर भी हो तो कहना हो क्या ?

लोग सिर्फ हमारे शब्दों का ही meaning नहीं लगते, बल्कि हमारे हाव-भाव, बोलने के लहजे आदि तमाम बातों पर ध्यान देते हैं. कई बार हम अपने शब्दों से नहीं, बल्कि हाव-भाव या लहजे से दूसरों की feeling को hurt पहुचाते हैं.

ये जरूरी नहीं कि ऐसा जानबूझ कर ही किया जा रहा हो. ऐसा अनजाने में भी हो सकता है. लोग हमसे दूर होने लगते हैं और हम जान ही नहीं पते कि ऐसा क्यों हो रहा है.

जब भी कोई rough ढंग से बातचीत करे तो सामने वाले को message जाने लगता है और ये roughness तब आती है जब व्यक्ति अपनी natural style में बातें न करके भरी-भरकम शब्दों के use करने लगे, बहुत ही pure और किताबी language बोलने की कोशिश करें.

दूसरों को impress करने की इस कोशिश का असर उल्टा होता है. लोग impress तो होते हैं, पर impress नकारात्मक पड़ रहा होता है.

इस article को पूरा पढ़ने के लिये Next Page पर जाये >>

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.